कैथल में डेरों में डकैती करने वाले बदमाशों का चार दिन का पुलिस रिमांड बढ़ा

कैथल
कैथल में छह डेरों में डकैती की वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह के छह सदस्यों को मंगलवार को अदालत में पेश किया गया। व्यापक पूछताछ के लिए पुलिस ने बदमाशों का चार दिन का रिमांड हासिल कर लिया है। पांच दिन के रिमांड में की गई पूछताछ में सामने आया है कि गिरोह में कुल 12 सदस्य हैं। इनमें से छह सदस्यों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। अन्य छह सदस्यों की पुख्ता पहचान कर ली गई है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार पंजाब एरिया में छापेमारी कर रही है।

बता दें कि गिरोह ने गांव कठवाड, बाबा लदाना, डंडौता, सौथा और नौच के धार्मिक डेरों में डकैती की थी। सात सितंबर को सीआइए वन पुलिस ने छह बदमाशों को काबू किया था। इनमें भादसों जिला पटियाला निवासी करोडा राम, नसीब, लाडी और शहजादपुर अंबाला निवासी मंगा, सावर, विनोद उर्फ मनोज शामिल हैं। फिलहाल पुलिस ने गांव कठवाड में हुई डकैती के मामले में गिरफ्तार किया है। अन्य पांच मामलों में अलग-अलग गिरफ्तारी दिखाकर पूछताछ की जाएगी। बदमाशों ने हरियाणा और पंजाब में करीब 20 डेरों में लूट और डकैती की वारदातों को अंजाम दिया था।

दो पुलिस की वर्दी हो चुकी बरामद
बदमाश डेरों में डकैती के समय पुलिस की वर्दी का इस्तेमाल करते थे। स्वयं को पुलिस, सीआइडी और सीआइए का कर्मचारी बताकर डेरों का दरवाजा खुलवाते थे। उसके बाद महंत और अन्य साधुओं के साथ मारपीट कर नकदी और आभूषण लूट कर फरार हो जाते थे। पुलिस ने बदमाशों से दो पुलिस की वर्दी, जूते, छह डंडे, लूटी गई सोने की दो अंगूठी और नकदी बरामद कर ली है। बता दें कि बदमाशों ने डेढ़ साल पहले पंजाब के डेरों में वारदात को अंजाम देना शुरू किया था। उसके बाद कैथल के छह डेरों को निशाना बनाया था। वारदात के समय बदमाश फोन का इस्तेमाल नहीं करते थे। बाइकों पर आते थे और वारदात के बाद बाइकों पर ही भाग जाते थे।

एसपी मकसूद अहमद ने बताया कि मंगलवार को डेरों में वारदात करने वाले बदमाशों को अदालत में पेश किया गया और चार दिन का पुलिस रिमांड लिया गया है। पूछताछ में सामने आया है कि गिरोह में 12 सदस्य शामिल हैं। अन्य छह बदमाशों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 

Related Articles

Back to top button