गुपकार गठबंधन मिलकर लड़ेगा जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव, फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती का ऐलान

 श्रीनगर
 
नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीडीपी ने जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव मिलकर लड़ने का फैसला किया है। दोनों दलों ने सोमवार को कहा कि गुपकार घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) जम्मू-कश्मीर में संयुक्त रूप से विधानसभा चुनाव लड़ेगा। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) और नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) दोनों पीएजीडी के प्रमुख घटक दल हैं। एनसी अध्यक्ष और पीएजीडी के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने कहा, "हम एक साथ चुनाव लड़ेंगे। एक राजनीतिक दल है जिसने कहा कि उसने गठबंधन छोड़ दिया है। सच्चाई यह है कि वे कभी गठबंधन का हिस्सा नहीं थे। वे हमें भीतर से तोड़ने आए थे।"

'खोई हुई गरिमा की बहाली के लिए मिलकर करेंगे प्रयास'
पीडीपी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी इसी तरह की बात कही। महबूबा ने कहा, "हम एक साथ चुनाव लड़ने का इरादा रखते हैं क्योंकि यह लोगों की इच्छा है कि हमें अपनी खोई हुई गरिमा की बहाली के लिए मिलकर प्रयास करना चाहिए।" अब्दुल्ला ने एक सवाल के जवाब में कहा कि सरकार जब चाहे चुनाव करा सकती है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जब बाढ़ आई थी तब चुनाव हुए थे। अब चुनाव क्यों नहीं हो सकते? सवाल यह है कि वे चुनाव कैसे लड़ना चाहते हैं।  अमरनाथ यात्रा के बारे में पूछे जाने पर अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर के लोगों ने वर्षों से तीर्थयात्रा का सुचारू संचालन को पूरे दिल से सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि गुफा की खोज करने वाला व्यक्ति कौन था? वह पहलगाम का रहने वाला मुसलमान था।

 

Related Articles

Back to top button