हांगकाग सरकार का सुस्त पड़े पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने के लिए फ्री एयर टिकट स्कीम

नई दिल्ली
कोरोना की वजह से यात्रा पर रोक होने के कारण पूरी दुनिया की ट्रैवल इंडस्ट्री को नुकसान हुआ है। एशिया में सबसे विकसित माने जाने वाला हांगकांग भी इससे अछूता नहीं है। अब कोरोना का असर कम होने के बाद हांगकांग ने पूरी दुनिया से टूरिस्टों को आकर्षित करने लिए एक नई योजना शुरू करने का फैसला किया है, जिसके तहत यात्रियों को 2 बिलियन हांगकांग डॉलर (2,055 करोड़ भारतीय रुपये) के 5,00,000 प्लेन टिकट दिए जाएंगे।

बता दें, हांगकांग ने कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए पिछले कुछ सालों से काफी सख्त दिशा निर्देश जारी किए हुए थे। इसके कारण दुनिया की बड़ी एयरलाइनों ने हांगकांग में उड़ानों का परिचालन बंद कर दिया था। अब हांगकांग की सरकार की कोशिश है कि शहर से आने जाने वाली उड़ानों की संख्या को फिर प्री-कोविड स्तर तक लाया जा सके।

बड़ी एयरलाइनें समेट रही कारोबार
ब्रिटिश एयरलाइन वर्जिन अटलांटिक ने बुधवार को कहा था कि वह यूक्रेन संघर्ष के कारण जल्द हांगकांग में ऑपरेशन को बंद कर देगी। एयरलाइन का कहना है कि वह जल्द हांगकांग में स्थित अपने ऑफिस को भी बंद कर देगी। इसके साथ लंदन और हांगकांग के बीच चलने वाली उड़ानों को भी बंद कर दिया जाएगा।

कब से ले सकते हैं फ्री टिकट
हांगकांग के टूरिज्म बोर्ड की ओर से बताया गया है कि एयरपोर्ट प्राधिकरण से मिलकर एयरलाइन कंपनियों के साथ बातचीत की जा रही है। सरकार जैसे ही सभी कोरोना से संबंधित रोक को हटा देती है। हम फ्री में टिकट देने की योजना को लागू कर उसका प्रचार करना शुरू कर देंगे। ये टिकट अगले साल की शुरुआत से दिए जा सकते हैं।

कोरोना के कारण सख्त नियम
चीन की जीरो कोरोना नीति के चलते हांगकांग में कोरोना के दुनिया में सबसे सख्त नियम बनाए गए हैं। लेकिन हाल ही में हांगकांग सरकार ने इन नियमों में ढ़ील देने के संकेत दिए थे। सरकार की ओर से कहा गया था कि आने वाले समय में यात्रियों को होटल में क्वारंटाइन और नेगेटिव कोरोना वायरस सर्टिफिकेट दिखाने की जरूरत नहीं होगी।

Related Articles

Back to top button