IMF ने पीएम मोदी की खाद्य सुरक्षा योजना को सराहा, कहा- इसके जरिए भारी भुखमरी को रोका गया

नई दिल्ली
 दुनियाभर में जब कोरोना महामारी का संकट आया तो उसका सबसे अधिक असर विकासशील देशों और गरीब देशों पर पड़ा। तमाम देशों में गरीबी ने निचले स्तर के आम नागरिकों की कमर को तोड़कर रख दिया। लेकिन भारत में गरीबों को कोरोना महामारी से बचाने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्य योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना की शुरुआत 26 मार्च 2020 को की गई थी, जिसके तहत गरीबों को 5 किलो गेहूं और 5 किलो चावल प्रति माह दिया जाने लगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस योजना की अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष IMF ने भी तारीफ की है। आईएमएफ ने कहा कि इस योजना के चलते भारत ने भुखमरी को टालने में सफलता हासिल की और अत्यंत गरीबी को टाला है।

Related Articles

Back to top button