जालंधर: गुस्साए पूर्व सैनिकों ने किया नेशनल हाईवे ब्लाक, फगवाड़ा और लुधियाना आना-जाना हुआ मुश्किल

जालंधर
पीएपी चौक पर शनिवार दोपहर उस समय स्थिति तनावपूर्ण हो गई जब निजी अस्पताल में हुए झगड़े में कथित तौर पर पुलिस की एकतरफा कार्रवाई पर पूर्व सैनिक भड़क उठे। पीएपी चौक पर पूर्व सैनिक वेलफेयर सोसाइटी के सदस्यों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ धरना देते हुए सड़क को दोनों ओर से अवरुद्ध कर दिया। इस कारण जालंधर-फगवाड़ा हाईवे पर वाहनों की लंबी लंबी कतारें लग गईं और लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा।

गत 5 जुलाई को आदमपुर के निकट एक सड़क दुर्घटना में दो व्यक्तियों को इलाज के लिए रामा मंडी के जौहल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। मौत के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए आदमपुर भेजा गया। तब आनन-फानन में पूर्व सैनिक बलविंदर सिंह ने अपनी मोटरसाइकिल साइकिल स्टैंड के पास खड़ी कर दी। बलविंदर ने बताया कि जब वह वापस आए तो उनकी मोटरसाइकिल की हवा निकली हुई थी। जब उन्होंने इसका विरोध किया तो जौहल अस्पताल में कार्यरत बाउंसर और स्टाफ के कर्मचारियों ने उन पर हमला बोल दिया। इस दौरान उन्हें चोटें भी आईं। इसी बीच मौके पर आई पुलिस उनकी मोटरसाइकिल सूर्या एन्क्लेव थाने में ले गई।

बलविंदर सिंह ने बताया कि झगड़ा 5 जुलाई का था।17 जुलाई को थाना परिसर में थाना प्रभारी नवजोत सिंह ने कहा कि मामला कोई खास नहीं है। बैठकर फैसला कर लेते हैं। इस पर उन्होंने हामी भर दी। उन्हें बाद में पता चला कि पुलिस ने उन पर एकतरफा कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने इसे सरासर अन्याय बताया और न्याय पाने के लिए आज पीएपी जाम पर धरना प्रदर्शन कर दिया।

बलविंदर सिंह ने बताया कि उन्हें पुलिस प्रशासन ने कहा है कि उन पर दर्ज मामला रद कर दिया जाएगा। बलविंदर ने मांग की कि उन पुलिस अधिकारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए, जिन्होंने उनके खिलाफ एकतरफा कार्रवाई की। उन्होंने कहा पुलिस और जौहल अस्पताल के खिलाफ भी बनती कार्रवाई की जाए।

इस तरह किया गया रास्ता डाइवर्ट
वाहनों की लंबी-लंबी लगी कतारों को देखते हुए पुलिस ने प्रागपुर से ही बसों और ट्रकों को कैंट की ओर से रास्ता डाइवर्ट कर दिया गया है अधिकांश लंबी-लंबी कतारें प्रागपुर दीपनगर से गुजरती हुई कैंट से बस स्टैंड जालंधर की ओर से भेजी जा रही है केंट मैं भी वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई है जालंधर से फगवाड़ा लुधियाना की ओर जाने वाले लोग कैंट से होकर गुजर रहे हैं और उस ओर से आने वाले भी कैंट से गुजर रहे हैं।

Related Articles

Back to top button