मंडी का पुलिस जवान चरस के साथ पकड़ा सस्पेंड, पूजा-पाठ के तरीके के कारण शहर में चर्चा का विषय बना

मंडी
करनाल पुलिस की ओर से डेढ़ किलो चरस के साथ पकड़ा गया आरोपित संजीव कुमार हिमाचल पुलिस का जवान धार्मिक प्रवृति का है। मंडी के समखेतर निवासी संजीव मंदिर में पूजा पाठ करने के साथ-साथ कर्मकांड करवाता है। आरोपित मंडी के धर्मपुर थाने में तैनात था तथा उसकी गिरफ्तारी की सूचना के बाद मंडी पुलिस ने आरोपित को सस्पेंड कर दिया है। संजीव कुमार पुलिस की वर्दी पहनकर करनाल चरस की सप्लाई लेकर जा रहा था। करनाल के एंट्री नारकोटिक्स सेल की टीम ने जब उसकी गाड़ी को रोका और तलाशी ली तो उसमें से डेढ़ किलोग्राम चरस निकली।

उसकी गिरफ्तारी के बाद मंडी शहर में उसके नाम की चर्चाएं शुरू हो गईं। हर रोज मंदिर आना, धोती में सर्दी में भी शहर की प्ररिक्रमा करना, अगर ब्यास में कोई डूब रहा हो तो उसे बचाने के लिए हमेशा आगे रहता था। कई साल से पुलिस की नौकरी करने के बावजूद अधिक पैसे कमाने के लालच में आरोपित चरस सप्लाई करने लगा था। चंडीगढ़ तक चरस की खेप पहुंचाने के लिए भी 20 हजार रुपये उसे दिए गए थे तथा उसने आगे दो लोगों को चरस देनी थी। वहीं उसकी गिरफ्तारी के बाद आरोपित के घर के आसपास भी सन्नाटा ही पसरा रहा।

पुलिस के कई जवानों पर सवाल
संजीव की तरह अन्य भी कई जवान पुलिस में ऐसे हैं जो संदिग्ध प्रवृति के हैं और ऐसे आपराधिक मामलों में संलिप्त हैं। गत दिनों ही मनाली थाने के तीन कर्मचारियों पर भी भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया गया है। वहीं इससे पहले कुल्लू में भी चरस को जलाते समय एक पुलिस कर्मी चरस चुपके से अपनी जेब में डालते हुए कैमरे में कैद हुआ था।

पुलिस जवान सस्‍पेंड
एएसपी मंडी आशीष शर्मा ने बताया धर्मपुर थाने के पुलिस जवान के चरस के साथ पकड़े जाने की सूचना के बाद उसे सस्पेंड कर दिया गया है।

Related Articles

Back to top button