मानसून की गति पड़ी धीमी, बारिश में देरी; उत्तर भारत में गुरुवार तक चलती रहेगी लू

 नई दिल्ली
 
मानसून की गति अरब सागर के पास कमजोर पड़ गई है। इस तरह इसके देश के अलग-अलग हिस्सों तक पहुंचने में छह दिन की देरी हो चुकी है। मानसून के कमजोर होने के साथ ही देश भर में इस सीजन में बारिश में 38 फीसदी की कमी आई है। मौसम विज्ञान के एक अधिकारी ने कहा, "सेंट्रल इंडिया में इस बार मानसून का पैटर्न बदला हुआ नजर आ रहा है। एंटी-साइक्लोन की मौजूदगी मानसून को लेकर अच्छा संकेत नहीं है। अरब सागर के पास इसकी गति कमजोर पड़ चुकी है।" पाकिस्तान की ओर से चल रही शुष्क और गर्म पछुआ हवाओं की वजह से उत्तर-पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों में गुरुवार तक 'लू' चलना जारी रहने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, देश में उत्तर प्रदेश के बांदा और फतेहगढ़ सबसे गर्म स्थान रहे, जहां अधिकतम तापमान क्रमशः 46.8 डिग्री सेल्सियस और 46.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राजस्थान के श्रीगंगानगर में पारा अधिकतम 46.3 डिग्री तक पहुंच गया, जबकि मध्य प्रदेश के खजुराहो और नौगांव में अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

गुरुवार तक पंजाब-उत्तराखंड में लू चलने का अनुमान
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि गुरुवार तक पंजाब, उत्तराखंड, हरियाणा और दिल्ली में लू चलने का अनुमान है। मौसम कार्यालय ने अगले दो दिनों के लिए ओडिशा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, जम्मू संभाग, हिमाचल प्रदेश, विदर्भ और उत्तर झारखंड में लू चलने का अनुमान जताया है। दक्षिण-पश्चिम मानसून 29 मई को केरल पहुंचा था और मंगलवार से इसके गति पकड़ने व आगे बढ़ने की उम्मीद है।
 
दिल्ली में जबरदस्त गर्मी से राहत नहीं
वहीं, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जबरदस्त गर्मी से किसी प्रकार की राहत नहीं मिली और सोमवार को कई इलाकों में पारा 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर बना रहा। मौसम विशेषज्ञों का अनुमान है कि ताजा पश्चिमी विक्षोभ के कारण सप्ताहांत में इस गर्मी से कुछ राहत मिल सकती है। दिल्ली के सफदरजंग वेधशाला के अनुसार में सोमवार को अधिकतम तापमान 44.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राजधानी में शुक्रवार तक अधिकतम तापमान गिर कर 40-41 डिग्री सेल्सियस पर आ सकता है।

 

Related Articles

Back to top button