कोरोनावायरस के भारत में 24 घंटे में आए 20 हजार से ज्यादा नए मामले

नई दिल्ली
24 घंटों में भारत में कोरोनावायरस संक्रमण के 21 हजार 880 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 60 मरीजों की मौत हुई। फिलहाल, देश में 1 लाख 49 हजार 482 मरीजों का इलाज जारी है। नए आंकड़ों को मिलाकर भारत में कुल मरीजों की संख्या 4 करोड़ 38 लाख 47 हजार 65 पर पहुंच गई है। वहीं, अब तक 5 लाख 25 हजार 930 कोविड मरीज जान गंवा चुके हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटे के अंदर सबसे ज्यादा 7 मौतें छत्तीसगढ़ में हुई. इसके बाद महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में 6-6 लोगों ने कोरोना की वजह से अपनी जान गंवाई. हिमाचल प्रदेश में 3 और असम, गुजरात, मणिपुर, मेघालय में 2-2 लोगों की सांसें थम गईं. यूपी, दिल्ली, बिहार, तमिलनाडु, राजस्थान, नगालैंड, केरल, कर्नाटक और गोवा में 1-1 व्यक्ति कोरोना के खिलाफ जंग हार गया. इसके अलावा, 21 मौतें केरल की हैं, जो पिछले दिनों हुईं लेकिन सरकारी रिकॉर्ड में अब चढ़ाई गई हैं. आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब तक 5,25,930 लोग कोरोना की वजह से जान गंवा चुके हैं.

यूनियन हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, देश में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 4,38,47,065 हो गई है। अब तक कुल 5,25,930 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई है। मृत्यु दर 1.20 फीसदी है। एक्टिव मामलों की संख्या 1,49,482 पहुंच गई है। एक्टिव केस कुल संक्रमण का 0.34 फीसदी हो गए हैं। कल के मुकाबले आज 601 संक्रमित मरीज अधिक हैं।

वहीं एक दिन में 21,219 कोरोना संक्रमित मरीज ठीक हुए हैं। डेली पॉजिटिविटी रेट 4.13 फीसदी हो गई है। देश में अब तक कुल 4,31,71,653 संक्रमित मरीज ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेट 98.46 फीसदी है। सरकार कोरोना वायरस पर काबू पाने के लिए वैक्सीनेशन पर जोर दे रही है। अब तक वैक्सीनेशन का आंकड़ा 2,01,30,97,819 पहुंच गया है। वहीं पिछले 24 घंटे में 37,06,997 डोज लगाई गई है। मिजोरम में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 207 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान किसी की कोरोना से मौत नहीं हुई है। राज्य में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 2,31,411 हो गई है। एक्टिव मामलों की संख्या 916 है। अब तक कुल 2,29,788 मरीज ठीक हो चुके हैं। राज्य में अब तक कुल 707 संक्रमित मरीजों की जान चली गई है।

देश में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 1,49,482 हो गई है. पिछले एक दिन में इसमें 601 का इजाफा हुआ है. इसमें सबसे ज्यादा पंजाब में 390, जम्मू कश्मीर में 353 और छत्तीसगढ़ में 293 सक्रिय केस बढ़े. सक्रिय केसों में सबसे अधिक गिरावट बंगाल (644) और ओडिशा(634) और केरल (548) में आई है.

मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के अंदर देश में 4,95,359 लोगों के कोरोना टेस्ट किए गए. एक दिन के अंदर कुल 37,06,997 लोगों को कोरोना के टीके लगाए गए. अब तक कुल 2,01,30,97,819 डोज दी जा चुकी हैं.

देश में कोरोना की स्थिति
कुल मामले: 4,38,47,065
सक्रिय मामले: 1,49,482
कुल रिकवरी: 4,31,71,653
कुल मौतें: 5,25,930
कुल वैक्सीनेशन: 2,01,30,97,819

 
बरेली में मिला था स्वाइन फीवर का मामला
वायनाड से पहले इससे पहले मिजोरम, त्रिपुरा और असम के बाद यूपी बरेली में भी अफ्रीकन स्वाइन फ्लू का मामला सामने आ चुका है। गुरुवार को बरेली में अफ्रीकन स्वाइन फीवर (एएसएफ) का पहला मामला सामने आया था। जैसा कि नाम से स्पष्ट से यह सुअरों में फैलता है। इंडियन वेटरनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट (IVRI) बरेली की तरफ से एक बरेली में टीम भेजने का फैसला लिया गया है। यह सुअरों में संक्रमण की जांच करेगी।आईवीआरआई के संयुक्त निदेशक डॉक्टर के. पी. सिंह के अनुसार कुछ दिनों पहले बरेली के भड़सर डांडिया गांव में एक पशु पालक के सुअर को तेज बुखार आया था और कुछ दिन बाद इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। मृत सुअर का नमूना जांच के लिए आईवीआरआई भेजा था। जांच में अफ्रीकन स्वाइन फीवर की पुष्टि हुई।

इंसानों को खतरा नहीं
डॉ. सिंह के अनुसार बताया कि जिस इलाके में अफ्रीकन स्वाइन फीवर के संक्रमण की पुष्टि होती है, उसके एक किलोमीटर के दायरे को संक्रमित जोन घोषित कर दिया जाता है। हालांकि, इस संक्रमण से इंसानों को खतरा नहीं है, लेकिन बीमार सुअर के संपर्क में आने वाले पशुपालकों या कर्मचारियों से संक्रमण दूसरे पशुओं में फैल सकता है।

2020 में पहली बार भारत में मिले थे मामले
बड़ी संख्या में सुअरों की मौत इससे हो सकती है या फिर एहतियात के लिए सुअरों को मारना पड़ सकता है। अफ्रीकी स्वाइन फीवर के मामले भारत में पहली बार 2020 में मिले थे। इससे पहले सितंबर 2019 में इस बीमारी की वजह चीन में बड़ी संख्या में सुअरों की मौत हुई थी। 

Related Articles

Back to top button