National News : G-20 का गमला चुराने वाला गिरफ्तार, पुलिस ने बरामद किए फ्लॉवर पॉट

National News : लाखों रुपए की कीमती लग्जरी कार में सवार होकर आए गमला चोर को गुरुग्राम पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने कार के नंबर के आधार पर उन्हें अरेस्ट किया है. एक आरोपी गुरुग्राम के गांधी नगर का रहने वाला है, जबकि पुलिस दूसरे आरोपी की तलाश कर रही है.

Latest National News : उज्जवल प्रदेश, गुरुग्राम. G-20 सम्मेलन की तैयारी के लिए सड़क पर रखे गए गमले चुराने के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पकड़े गए शख्स का नाम मनमोहन है. उसके पास से कार और चोरी के गमले बरामद कर लिए गए हैं.

अब पुलिस उसके दूसरे साथी की पहचान करने के लिए मनमोहन से पूछताछ कर रही है. आरोपी मनमोहन गुरुग्राम के गांधी नगर इलाके का रहने वाला है. जिस गाड़ी से गमले चुराए गए, उसकी नंबर प्लेट हरियाणा के हिसार की है. गाड़ी मनमोहन की पत्नी के नाम पर रजिस्टर्ड है.

शुरुआती तफ्तीश में सामने आया है कि मनमोहन और उसका एक साथी दिल्ली से गुरुग्राम लौट रहे थे. दोनों ने ही खूबसूरत फूलों के गमलों को देखकर अपनी गाड़ी रोक ली और गमले चोरी कर मौके से फरार हो गए. पूछताछ में सामने आया है कि उन्हें इस बात की बिल्कुल भी जानकारी नहीं थी कि कोई उनकी करगुजरी का वीडियो रिकॉर्ड कर रहा है.
इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी वायरल हुआ था, जिसमें दो लोग गमले चुराते नजर आए थे. वीडियो में दिख रहा है कि दो लोगों ने गाड़ी को गमलों के पास रोकते हैं और कार में गमले रखकर फरार हो जाते हैं.

गमला चोरी की यह घटना गुरुग्राम के सहरोल बॉर्डर क्षेत्र की है. चोर एक काले रंग की लग्जरी कार में आए थे. उन्होंने सड़क की सजावट के लिए रखे गए फूलों के पास कार रोकी थी. गाड़ी के रुकते ही उसमें से दो लोग नीचे उतरे थे और एक-एक करके गमलों को कार की डिग्गी में रखना शुरू कर दिया था. करीब एक मिनट तक एक के बाद एक गमलों को कार में रखने के बाद दोनों डिग्गी बंद कर कार लेकर फरार हो गए थे.

दरअसल, सड़क किनारे यह फ्लॉवर पॉट G-20 मीट को लेकर शहर भर में किए जा रहे सौन्दर्यीकरण के तहत रखे गए थे. इसी क्रम में दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर विदेशियों के स्वागत के लिए गमलों को रखा गया था. मामले का वीडियो वायरल होने के बाद डीएलएफ फेज 3 की पुलिस ने गाड़ी के नंबरों के आधार पर जांच शुरू कर दी थी.

यूट्यूबर ने दी थी सफाई

गुरुग्राम में लग्जरी कार में गमले चुराने का वीडियो सामने आने के बाद लोगों ने यूट्यूबर एल्विश यादव को घेरना शुरू कर दिया था. लोगों ने दावा किया था कि चोरी में इस्तेमाल होने वाली कार मशहूर यूट्यूबर एल्विश यादव की है. घटना से यूट्यूबर का नाम जुड़ने के बाद ट्विटर पर #Elvishyadav और #gamlachor ट्रेंड करने लगा था.

मामले के तूल पकड़ने के बाद यूट्यूबर को खुद आकर सफाई दी थी. उन्होंने ट्वीट किया था, ‘यह मेरा वाहन नहीं है. मैं सभी से विनम्र निवेदन करता हूं कि मेरे बारे में कोई भी गलत जानकारी न फैलाएं. मैं उन लोगों पर मुकदमा कर रहा हूं जो मेरे बारे में गलत जानकारी फैला रहे हैं.’

Related Articles

Back to top button