महाराष्ट्र सरकार के सामने नई चुनौती? राज ठाकरे को मिल रहा शिवसैनिकों का समर्थन

मुंबई
महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे की तरफ से मिली चेतावनी के बाद महाराष्ट्र पुलिस अलर्ट मोड पर है। अब खबर है कि मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने की बात कह रहे ठाकरे को शिवसैनिकों का भी समर्थन मिलता नजर आ रहा है। मंगलवार को ठाकरे ने हिंदुओं से मस्जिदों के बाहर लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा का चलाने की अपील की थी। बुधवार को उन्होंने दोबारा साफ किया था कि उनका आंदोलन जारी रहेगा।

रिपोर्ट के अनुसार, कई पुराने शिवसैनिक राज ठाकरे की बात से असहमति नहीं जता पा रहे हैं। ऐसे में राज्य की महाविकास अघाड़ी में शामिल शिवसेना को सतर्क रहकर काम करना पड़ रहा है। रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई के पूर्व शाखा प्रमुख का कहना है, 'हम कैसे असहत हो सकते हैं? बाला साहेब हमेशा इस बात पर बने रहे, राज के बजाए यह मुद्दा हमें उठाना चाहिए था।' वहीं, सेना के कुछ पदाधिकारियों का भी मानना था कि राज ठाकरे की बात को 99 फीसदी समर्थन मिला है।

बाल ठाकरे का पुराना वीडियो किया था ट्वीट
बुधवार को मनसे प्रमुख ने दिवंगत बाला साहब ठाकरे का एक पुराना वीडियो शेयर किया था। इस वीडियो में सुना जा सकता है कि एक कार्यक्रम के दौरन मंच से शिवसेना संस्थापक मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने की बात कह रहे हैं। वहीं, इससे पहले भी राज ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से सवाल किया था कि वह बाल ठाकरे की बात मानेंगे या राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सुप्रीमो शरद पवार की।
 
क्या कहती है शिवसेना
शिवसेना नेता संजय राउत ने बुधवार को राज्य में गैर-कानूनी स्पीकर होने की बात से इनकार किया है। साथ ही उन्होंने मनसे प्रमुख के कामों को नौटंकी बताया है। राउत ने कहा, 'महाराष्ट्र में कोई भी गैर-कानूनी लाउडस्पीकर नहीं हैं। राज्य में पूर्ण शांति है… यह एक दिन की नौटंकी थी।' उन्होंने आगे कहा, 'रात गई बात गई।' उन्होंने बाल ठाकरे के वीडियो को लेकर कहा, 'बाल ठाकरे और वीर सावरकर ने देश को हिंदुत्व सिखाया है। शिवसेना का हिंदुत्व का स्कूल असली है।

 

Related Articles

Back to top button