Nuh Violence News : नूंह में फिर गरजा बुलडोजर, खाली कराए जा रहे कब्जे, तोड़ी गईं दुकानें

Nuh Violence News : SHKM गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज के पास अवैध दुकानें तोड़ी गई हैं. इसके साथ ही अवैध कब्जे भी खाली कराए गए हैं. शनिवार सुबह नूहं प्रशासन की टीम नलहार मंदिर के रास्ते

Latest Nuh Violence News : उज्जवल प्रदेश, नूंह . नूंह में हिंसा से माहौल में तनाव है. इस बीच, जिला प्रशासन ने एक बार फिर अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलाया है. शनिवार को यहां SHKM गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज के पास अवैध दुकानें तोड़ी गई हैं. इसके साथ ही अवैध कब्जे भी खाली कराए गए हैं. शनिवार सुबह नूहं प्रशासन की टीम नलहार मंदिर के रास्ते में स्थित अस्पताल के ठीक सामने पहुंची और वहां अवैध कब्जों को हटाने का काम शुरू कर दिया. शहर में लगातार बुलडोजर की कार्रवाई से अवैध निर्माण करने वाले लोगों में हड़कंप है.

जानकारी के मुताबिक, ये कार्रवाई डिस्ट्रिक्ट टाउन प्लानर (NUH) की तरफ से की जा रही है. करीब 40 दुकानें अवैध हैं, इन्हें तोड़ा जा रहा है. ये वो जगह है, जहां पर 31 जुलाई को हिंसा भड़कने के बाद गाड़ियां जलाई गई थीं और पत्थरबाजी हुई थी. नूंह में शनिवार को नई गांव, सिंगार, बिसरू, डुडोली पिंगवा, फिरजोपुर में भी बुलडोजर चलेगा. प्रशासन से जुड़े लोगों का कहना है कि यहां अवैध कब्जे हटाए जाएंगे.

प्रशासन ने कहा- सीएम के आदेश पर एक्शन

नूंह के SDM अश्विनी कुमार ने बताया कि सीएम के आदेश पर कार्रवाई हुई है. सारा अवैध निर्माण है. दंगों में भी ये लोग शामिल थे, इसलिए सीएम के आदेश पर कार्रवाई की जा रही है. मौके पर मौजूद अधिकारियों के मुताबिक, अवैध कब्जे की जमीन खाली करवाई जा रही है. इससे पहले शुक्रवार को स्थानीय प्रशासन ने चार जगहों पर बुलडोजर चलाकर अवैध निर्माण हटाए थे. गुरुवार को नूहं के तावडू में बुलडोजर चला था.

रोहिंग्याओं की 200 झुग्गियां जमींदोज

पुलिस ने तावडू रोहिंग्याओं और अवैध घुसपैठियों के अवैध कब्जे पर बुलडोजर चलाया था. बताया जा रहा है कि इन रोहिंग्याओं ने हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की जमीन पर अवैध कब्जा किया हुआ था. पुलिस ने बुलडोजर से 200 से अधिक झुग्गियां को गिरा दिया. बुलडोजर का एक्शन करीब 4 घंटे तक चला. बताया जा रहा है कि इन झुग्गियों में बांग्लादेश के काफी लोग अवैध तरीके से रह रहे हैं. इनमें से कई लोग हिंसा में शामिल थे.

 

मेवात-नूंह में 31 जुलाई को हुई थी हिंसा

बता दें कि हरियाणा के नूंह-मेवात में 31 जुलाई को बृजमंडल यात्रा निकाली गई थी. इसी दौरान यात्रा पर पथराव हो गया. देखते ही देखते यह विवाद दो समुदायों के बीच हिंसा में बदल गया. सैकड़ों कारों को आग लगा दी गई. साइबर थाने पर भी हमला किया गया. हिंसा में 2 होमगार्ड समेत 6 लोगों की मौत हो गई. पुलिस ने हिंसा के आरोपियों पर एक्शन तेज कर दिया है.

भड़काऊ वीडियो ने लोगों को उकसाया

नूंह के अलावा फरीदाबाद में 3, गुरुग्राम में 23, पलवल में 18, रेवाड़ी में 3 FIR दर्ज की गई हैं. पुलिस ने सोशल मीडिया पर प्रसारित किए गए 2300 वीडियो की पहचान की है. पुलिस का मानना है कि इन्हीं वीडियो ने हिंसा को उकसाने में अहम भूमिका निभाई.

योजना के तहत हिंसा हुई: विज

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज का कहना है, इसके पीछे एक बड़ा गेम प्लान है. लोग मंदिरों के बगल की पहाड़ियों पर चढ़ गए, उनके हाथों में लाठियां थीं और एंट्री पॉइंट पर इकट्ठा हुए, यह सब पहले से तैयार योजना के बिना संभव नहीं था. गोलियां चलाईं, आग लगाई गई. कुछ लोगों ने हथियारों की भी व्यवस्था कर रखी थी. बिना पूरी जांच के हम जल्दी निष्कर्ष पर नहीं पहुंचेंगे. स्थिति में सुधार होने के बाद इंटरनेट सेवाएं बहाल कर दी जाएंगी.

‘जरूरत पड़ी तो बुलडोजर चलाएंगे’

विज का कहना है, कुल 102 एफआईआर दर्ज की गई हैं. 202 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. 80 लोग हिरासत में हैं. हमें जानकारी मिल रही है कि गोलीबारी की घटनाएं पूर्व नियोजित थीं. पत्थर एकत्र किए गए थे. लोगों ने छतों और पहाड़ियों पर जाकर गोलीबारी की. हम जानकारी एकत्र कर रहे हैं. जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर रहे हैं. जरूरत पड़ने पर हम बुलडोजर चलाएंगे. हम जांच करेंगे कि क्या घटना के संबंध में कोई पहले से इनपुट था.

नूंह के डिप्टी कमिश्नर का तबादला

नूंह हिंसा मामले में अधिकारियों पर गाज गिरना शुरू हो गया है. एक और आईएएस अधिकारी का तबादला हो गया है. नूंह के डिप्टी कमिश्नर प्रशांत पवार का ट्रांसफर कर दिया गया है. अब धीरेंद्र खड़गता नूंह के नए डिप्टी कमिश्नर होंगे.

Related Articles

Back to top button