नुपूर शर्मा को दिल्‍ली पुलिस की सिफ़ारिश से मिला हथियार का लाइसेंस

BJP की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) को दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने हथियार का लाइसेंस (Arm Licence) जारी किया है. नूपूर को पुलिस की तरफ से यह लाइसेंस आत्‍मरक्षा के लिए जारी किया गया है. दरअसल, इस बयान के बाद नुपूर को लगातार जान से मारने की कई धमकियां दी गईं, जिसके बाद उन्‍हें दिल्‍ली पुलिस ने यह आर्म लाइसेंस दिया.

नईदिल्ली
एक समाचार चैनल पर चर्चा के दौरान पैगंबर मोहम्मद (Prophet Mohammed) के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर विवादों में आईं भारतीय जनता पार्टी (BJP) की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) को दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने हथियार का लाइसेंस (Arm Licence) जारी किया है. नूपूर को पुलिस की तरफ से यह लाइसेंस आत्‍मरक्षा के लिए जारी किया गया है. दरअसल, इस बयान के बाद नुपूर को लगातार जान से मारने की कई धमकियां दी गईं, जिसके बाद उन्‍हें दिल्‍ली पुलिस ने यह आर्म लाइसेंस दिया.

बता दें कि एक टीवी चैनल पर डिबेट के दौरान नुपूर शर्मा ने पैगंबर मोहम्‍मद पर कथित विवादित टिप्‍पणी (Prophet Muhammad) की थी, जिसके बाद विवादों एक लंबा दौर चला. नुपूर को तमाम जगहों से जान से मारने की धमकी दी गईं. उनके खिलाफ मुकदमे भी दर्ज किए गए. भारतीय जनता पार्टी ने उनके इस विवादित बयान के बाद अपनी राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा को पार्टी से निलंबित कर दिया था. उनके अलावा दिल्ली इकाई के मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल (Naveen Kumar Jindal) को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया.

पार्टी ने दोनों नेताओं के खिलाफ यह कार्रवाई ऐसे समय में की गई, जब उनके बयानों को लेकर विवाद हो गया था और मुस्लिम समुदाय ने इसका भारी विरोध किया था. दोनों नेताओं के खिलाफ की गई कार्रवाई को विवाद को समाप्त करने की भाजपा की एक कोशिश के रूप में देखा गया.

इस मुद्दे पर बवाल मचने के बाद भाजपा ने एक तरह से दोनों नेताओं के बयानों से किनारा करते हुए एक बयान जारी कर कहा कि वह सभी धर्मों का सम्मान करती है और किसी भी धर्म के पूजनीय लोगों का अपमान स्वीकार नहीं करती.

भाजपा से निलंबन के बाद नूपुर शर्मा ने अपना बयान बिना शर्त वापस ले लिया था. उन्होंने कहा था कि उनकी मंशा किसी की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने की नहीं थी.

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group