देश के 46 शिक्षकों को सम्मानित करेंगी राष्ट्रपति, पीएम करेंगे बात

नई दिल्ली
देशभर में आज शिक्षक दिवस मनाया जा रहा है। इस मौके पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु देश के 46 शिक्षकों को सम्मानित करेंगी। राष्ट्रपति 'शिक्षकों को राष्ट्रीय पुरस्कार 2022' के तहत उन्हें पुरस्कृत करेंगी। इसके बाद पीएम मोदी शाम साढ़े चार बजे विजेता शिक्षकों से रूबरू होंगे।

शिक्षकों को सम्मानित करने का उद्देश्य
प्रधानमंत्री कार्यालय के अनुसार, 'शिक्षकों को राष्ट्रीय पुरस्कार का उद्देश्य देश के कुछ बेहतरीन शिक्षकों के अद्वितीय योगदान का जश्न मनाना और सम्मान करना है। इन शिक्षकों ने अपनी प्रतिबद्धता और कड़ी मेहनत के माध्यम से न केवल स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार किया है, बल्कि अपने छात्रों के जीवन को भी समृद्ध किया है।'

ऑनलाइन प्रक्रिया के जरिए हुआ चयन
राष्ट्रीय पुरस्कार प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत मेधावी शिक्षकों दिया जाएगा। इस वर्ष पुरस्कार पाने वाले शिक्षकों का चयन तीन चरणों में हुई ऑनलाइन प्रक्रिया के जरिए किया गया है। विजेता शिक्षक हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, महाराष्ट्र और तेलंगाना समेत अन्य इलाकों से हैं। पुरस्कार समारोह का आयोजन दिल्ली के विज्ञान भवन में किया जाएगा। दूरदर्शन और शिक्षा मंत्रालय के स्वयं प्रभा चैनल्स पर इसका लाइव प्रसारण देख सकेंगे। बता दें कि शिक्षा विभाग हर साल 5 सितंबर को विज्ञान भवन में देश में बेस्ट टीचर के लिए कार्यक्रम का आयोजन करता रहा है।

क्यों मनाया जाता है शिक्षक दिवस?
शिक्षक दिवस पूर्व राष्ट्रपति डा. एस राधाकृष्णन की याद में मनाया जाता है। उनका जन्म 5 सितंबर, 1888 को हुआ था। शिक्षा के क्षेत्र में उनका योगदान अनुकरणीय है। शिक्षक दिवस मनाने की परंपरा 1962 में देश भर के पूर्व राष्ट्रपति और सभी शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए शुरू हुई थी।

Related Articles

Back to top button