पुलकित आर्य के पिता और भाई को भाजपा ने पार्टी से किया निष्कासित

  हरिद्वार
उत्तराखंड में अंकिता भंडारी हत्याकांड के मुख्य आरोपी पुलकित आर्य और उसके परिवार पर प्रशासन का शिकंजा कसता जा रहा है. पुलकित आर्य के पिता विनोद आर्य और भाई अंकित आर्य को भाजपा ने पार्टी से निष्कासित कर दिया है. इसके साथ ही अंकित आर्य को आयोग के पद से हटा दिया गया है. अब पुलकित के पिता विनोद आर्य ने बेटे का बचाव करते हुए कहा कि पुलकित सीधा सादा बच्चा है, उसका ध्यान बिजनेस पर था. इस मामले में मैं जांच में पूरा सहयोग देने को तैयार हूं.

विनोद आर्य ने कहा कि पुलकित काफी समय से उनके साथ नहीं रह रहा था. पुलकित आर्य मेरा बेटा है, लेकिन काफी दिनों से मुझसे अलग रह रहा था और हम जिम्मेदार लोग हैं. उन्होंने कहा कि हमने यह तय किया है कि जब तक जांच पूरी न हो और हमारे पद का दुरुपयोग न हो, इस कारण मैंने कल भारतीय जनता पार्टी के सभी पदों से त्याग पत्र दे दिया है. हम जांच में पूरा सहयोग करेंगे.

उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि दूध का दूध और पानी का पानी हो और अंकिता को भी इंसाफ मिले और पुलकित आर्य को भी इंसाफ मिले. उन्होंने कहा कि किसी भी अपराध में पुलकित का नाम नहीं आया और अभी भी ऐसी कोई बात नहीं है. वह सीधा साधा बालक है, अपने काम से काम रखता है. बिजनेस में उसका ध्यान है.
सम्बंधित ख़बरें

 

Related Articles

Back to top button