विचाराधीन कैदियों से बुड़ैल जेल में मिलने पहुंचे स्वजन, बाहर वाहन से पर्स-मोबाइल पर चोरों ने किया हाथ साफ

चंडीगढ़
बुड़ैल जेल में बंद विचाराधीन कैदियों से मिलने पहुंचे स्वजनों के वाहन से नकदी, पर्स और मोबाइल अज्ञात आरोपित चोरी कर फरार हो गए। मामले में पीड़ित परिजनों की शिकायत पर संबंधित थाना पुलिस मामले की जांच में लगी है। जीरकपुर के रहने वाले प्रवीन कुमार ने मित्तल ने बताया कि वह सुबह कुछ रिश्तेदारों के साथ बुड़ैल जेल में बंद बंटी से मिलने गए थे। अपनी एक्टिवा बुड़ैल जेल के गेट नंबर-वन के सामने पार्क कर दी। तकरीबन एक घंटे के बाद वापस आने पर देखा कि एक्टिवा की डिग्गी खुली हुई थी। एक्टिवा की डिग्गी में रखा पर्स, पांच हजार रुपये नकदी और मोबाइल फोन चोरी हो गए थे। इसके बाद उन्होंने पुलिस कंट्रोल रुम में मामले की शिकायत दी।

खरड़ की महिलाओं की एक्टिवा से भी चोरी
शिकायतकर्ता प्रवीन कुमार ने बताया कि खरड़ की दो महिलाएं भी बुड़ैल जेल में बंद किसी जानकार से मिलने आई थी। आरोपित क्रेडिट कार्ड, मोबाइल और अन्य सामान चोरी कर भागे हैं। मामले में पुलिस जांच करने में लगी है। शिकायतकर्ता ने बताया कि उसी दिन सुबह करीब 6 बजे एक अज्ञात व्यक्ति गेट नंबर-वन पर खड़े होने वाले वाहनों की चेकिंग करता नजर आया। पुलिस को संदेह है कि उसी आरोपित ने वाहनों की डिग्गी से नकदी, मोबाइल और पर्स की चोरी की है। पुलिस संदिग्ध युवक की तलाश में लगी है।

एफआइआर की जगह डीडीआर की दर्ज
शिकायतकर्ता प्रवीन कुमार ने बताया कि पुलिस कंट्रोल रूम में एक्टिवा की डिग्गी से नकदी और मोबाइल चोरी होने की सूचना दी। इसके बावजूद पुलिसकर्मियों ने उसकी शिकायत में एफआइआर की जगह डीडीआर दर्ज कर दी। पुलिसकर्मियों ने कहा कि थाने के चक्कर काटने से बचने के लिए डीडीआर दर्ज की गई है।

Related Articles

Back to top button