चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी MMS केस में खुलासा, वीडियो बनाने वाली लड़की गिरफ्तार

चंडीगढ़
 
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी MMS मामले में गिरफ्तार आर्मी मैन संजीव सिंह से पूछताछ में कई अहम खुलासे हुए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, वह उस स्टूडेंट से प्यार में था जिसने हॉस्टल में लड़कियों का नहाते हुए वीडियो बनाया था। आरोपी छात्रा के साथ अपनी रिलेशनशिप के बारे सिंह ने मोहाली पुलिस से पूछताछ में बताया है। बताया जा रहा है कि सैन्यकर्मी सोशल मीडिया के जरिए आरोपी लड़की से मिला था। इसके बाद दोनों ने एक-दूसरे के मोबाइल नंबर शेयर किए। हालांकि, यह अभी तक साफ नहीं हो पाया है कि आरोपी ने संजीव सिंह के भी वीडियो साझा किए थे या नहीं। पुलिस को सिंह के पास से दो मोबाइल फोन मिले हैं।

MMS कांड पर यूनिवर्सिटी में हुआ भारी बवाल
पंजाब के मोहाली स्थित विश्वविद्यालय परिसर में बीते दिनों इस आरोप को लेकर जोरदार विरोध प्रदर्शन हुआ था कि हॉस्टल के स्नानघर में छात्राओं के कई आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड किए गए थे। कुछ छात्रों ने ​​दावा किया था कि वीडियो लीक हो गए थे। हालांकि, विश्वविद्यालय प्रशासन ने इन आरोपों को झूठा और निराधार बताकर खारिज कर दिया था।

लड़की पर वीडियो शूट करने का था दबाव?
आरोपी MBA स्टूडेंट से जब हॉस्टल मैनेजर पूछताछ कर रहा था, उस समय भी यह देखा गया कि कोई उसे टेक्स्ट मैसेज कर रहा था। बाद में ह्वास्ऐप चैट से खुलासा हुआ कि वह संजीव सिंह के साथ ही बातचीत कर रही थी। इस दौरान सिंह उससे वीडियो और तस्वीरें शेयर करने के लिए कह रहा था। चैट से पता चलता है कि आरोपी पर वीडियो शूट करने का दबाव था।

सैन्यकर्मी संजीव सिंह को पुलिस ने अरुणाचल से दबोचा
पंजाब के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गौरव यादव ने बताया कि संजीव सिंह को अरुणाचल प्रदेश से दबोचा गया। डीजीपी ने ट्वीट किया, 'सेना, असम और अरुणाचल प्रदेश पुलिस के सहयोग से चंडीगढ़ विश्वविद्यालय मामले में अहम खुलासा। आरोपी सैन्यकर्मी संजीव सिंह को सेला दर्रे से गिरफ्तार किया गया। मोहाली की अदालत में पेशी के लिए बोमडिला के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट से उसे ट्रांजिट रिमांड पर लिया गया है। संदेह है कि वह आरोपी छात्रा को ब्लैकमेल कर रहा था।'

 

 

Related Articles

Back to top button