रूपनगर: महिलाओं ने शराब के ठेके के खिलाफ खोला मोर्चा, हाथों में डंडे लेकर पंजाब सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

रूपनगर
रूपनगर-नूरपुरबेदी मार्ग पर करीब पांच किलोमीटर स्थित गांव खड्ड बठलौर निचला की महिलाओं ने शराब का ठेका गांव के नजदीक रखने के विरोध में मोर्चा खोल दिया है। गांव की महिला सरपंच सुखविंदर कौर की अगुवाई में महिलाओं ने हाथों में डंडे लेकर रोष प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने रूपनगर-नूरपुरबेदी मार्ग पर जाम लगा दिया और पंजाब सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।

एसएचओ नूरपुरबेदी ने माहौल करवाया शांत
करीब तीन घंटे तक महिलाओं के ट्रैफिक जाम की वजह से आवागमन प्रभावित रहा। सूचना के बाद पहुंचे एसएचओ नूरपुरबेदी गुरसेवक सिंह ने माहौल शांत करवाया। उन्होंने महिलाओं को समझाया और गांव के निकट ठेका खोलने न देने का आश्वासन दिया। वहीं गुस्साए गांववासियों ने 'बोले सो निहाल' के जयकारे लगाते हुए शराब के ठेके का खोखा सड़क के एक तरफ फेंक दिया।

आप सरकार में गांव-गाव खोले जा रहे ठेके
इस मौके सरपंच सुखविंदर कौर ने कहा कि मंगलवार सांय पता चला कि गांव के निकट ठेका खोला जा रहा है। जब विधानसभा चुनाव में वोट देने का समय था तो प्रदेश को नशा मुक्त पंजाब बनाने की बातें आम आदमी पार्टी के नेता कर रहे थे। अब पंजाब में जब सरकार आप पार्टी की बन गई है तो गांव-गांव ठेके खोले जा रहे हैं।

गांववासियों की मांग को दी जाएगी तरजीह
नूरपुरबेदी के एसएचओ गुरसेवक सिंह ने कहा कि गांववासियों के विरोध के चलते शराब के ठेके का खोखा हटवा दिया गया है। गांववासियों को समझाया गया है कि बैठकर मामले को सुलझा लिया जाएगा। गांववासियों की मांग को तरजीह दी जाएगी।

 

Related Articles

Back to top button