कुछ सुधार शुरुआत में खराब लगते हैं,हमने डिफेंस सेक्टर को हर युवा के लिए खोला- पीएम मोदी

 नई दिल्ली
      
देश में केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना को लेकर विवाद देखने को मिल रहा है. कई राज्यों में हिंसक प्रदर्शन हुए हैं और आगजनी भी देखने को मिल गई है. इस बीच बेंगलुरू पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिना इस योजना का नाम लिए युवाओं को एक बड़ा संदेश दिया है. उन्होंने कहा है कि उनकी सरकार ने पिछले आठ सालों में स्पेस और डिफेंस सेक्टर को युवाओं के लिए खोल दिया है.

वे कहते हैं कि रीफॉर्म का रास्ता ही हमे नए लक्ष्यों की ओर ले जा सकता है. हमने डिफेंस और स्पेस के सेक्टर को युवाओं के लिए खोल दिया है जिनमें दशकों तक सरकार का एकाधिकार था. ड्रोन से लेकर हर दूसरी टेक्नोलॉजी में हम युवाओं को काम करने का मौका दे रहे हैं. आज हम युवाओं से कह रहे हैं कि सरकार ने जो वर्ल्ड क्लास टेक्नोलॉजी बनाई है, वहां युवा अपने आइडिया दें, अपने इनपुट दें.

पीएम मोदी ने इस बात पर भी जोर दिया कि उपक्रम चाहे सरकारी हो या फिर प्राइवेट, दोनों देश के ऐसेट हैं, इसलिए लेवल प्लेयिंग फील्ड सबको बराबर मिलना चाहिए. मोदी ने इस बात पर भी खुशी भी जाहिर की कि पिछले 8 साल में 100 से अधिक बिलियन डॉलर कंपनियां खड़ी हुई हैं, जिसमें हर महीने नई कंपनियां जुड़ रही हैं. उनके मुताबिक स्टार्ट अप की दुनिया में भारत तेजी से काम कर रहा है और अब तक हजारों करोड़ का कारोबार कर चुका है.

'जो काम 40 साल पहले हो जाने थे, वे हमारे हिस्से आए हैं'

पीएम नरेंद्र मोदी ने बेंगलुरु की विकास परियोजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि जिन कामों को 40 साल पहले पूरा हो जाना था, वे आज तक लंबित हैं और अब ये मेरे हिस्से आए हैं। आप लोगों ने मुझे मौका दिया है और अब मैं समय गंवाना नहीं चाहता हूं। उन्होंने कहा कि जब आसपास के इलाके रैपिड रेल से जुड़ जाएंगे तो उससे बेंगलुरु में जाम समेत तमाम समस्याएं खत्म हो जाएंगी। इसके अलावा नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवेज का हमने जो शिलान्यास किया है, उनके निर्माण के बाद बड़ी संख्या में गाड़ियों को बेंगलुरु आना ही नहीं पड़ेगा। इससे सफर भी आसान होगा और बेंगलुरु की व्यवस्था भी बेहतर होगी।

प्रधानमंत्री के कर्नाटक दौरे की बात करें तो उन्होंने करीब 27000 करोड़ रुपये की विभिन्य परियोजनाओं को हरी झंडी दिखाई है. उन्होंने बेंगलुरु उपनगरीय रेलवे परियोजना की नींव रखी है तो वहीं दूसरी तरफ बी आर आंबेडकर स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स (बेस) का उद्घाटन किया है. इस मौके पर पीएम ने कहा है कि बैंगलुरू को जाम से मुक्ति दिलाने के लिए रेल, रोड, मेट्रो, अंडरपास, फ्लाईओवर, हर संभव माध्यमों पर डबल इंजन की सरकार काम कर रही है. बैंगलुरू के जो suburban इलाके हैं, उनको भी बेहतर कनेक्टिविटी से जोड़ने के लिए हमारी सरकार प्रतिबद्ध है.

जानकारी के लिए बता दें कि पीएम दो दिन के कर्नाटक दौरे पर आए हैं जहां पर वे प्रतिष्ठित लिंगायत समुदाय के गुरुकुल सुत्तूर मठ भी जाने की तैयारी कर रहे हैं. इसके अलावा वे मैसुरु की देवी चामुंडेश्वरी के दर्शन भी करने वाले हैं.

मोदी बोले- हमने रेलवे के अनुभव को पूरी तरह बदल दिया है

उन्होंने कहा कि बीते 8 सालों में हमने रेलवे के अनुभव को पूरी तरह बदल दिया है। अब भारतीय रेल तेज भी है, स्वच्छ भी है और आधुनिक भी हो रही है। इसके अलावा सुरक्षित भी है और सिटिजन फ्रेंडली भी हो रही है। हमने देश के उन हिस्सों में भी रेल को पहुंचाया है, जहां इसके बारे में सोचना तक मुश्किल था। कर्नाटक में भी 1,200 किलोमीटर से ज्यादा की रेल लाइन या तो नई बनी है या फिर विस्तार हुआ है। अब हवाई यात्रा और एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं अब रेलवे भी दे रहा है। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि बेंगलुरु के एम. विश्वेश्वरैया रेलवे स्टेशन पर तो लोग पर्यटन के लिए जाते हैं। यहां तक कि युवाओं में तो सेल्फी की होड़ रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button