स्टूडेंट्स ने लगाए ‘जय श्री राम’ के नारे तो स्कूल ने दी सज़ा, अब मांगनी पड़ गई माफी

 अहमदाबाद

गुजरात के वापी में एक मिशनरी स्कूल को अपने ही स्टूडेंट और पैरंट्स से माफी मांगनी पड़ गई। दरअसल स्कूल ने बच्चे को कैंपसम में 'जय श्री राम' का नारा लगाने के लिए स्कूल से निकालने की धमकी दी थी। स्कूल ने स्टूडेंट्स से लिखित में माफी भी मंगवाई थी। इसके बाद स्कूल में स्टूडेंट्स के पैरंट्स और दक्षिणपंथी संगठनों के लोग पहुंच गए और नारेबाजी शुरू कर दी। स्थिति बिगड़ते देख स्कूल प्रशासन ने माफी मांगी।

एक हिंदू संगठन के नेता सुशील यादव ने बताया कि यह पहली घटना नहीं है जब किसी स्टूडेंट को जय श्री राम का नारा लगाने के लिए निकाला जा रहा है। मिशनरी स्कूल ऐसा अकसर करते हैं। हिंदू त्योहारों के दौरान अगर स्टूडेंट कुछ ऐसा पहन लेते हैं या राखी बांध लेते हैं तब भी स्कूल वाले आपत्ति जताते हैं और उनके खिलाफ कार्रवाई करते हैं।  उन्होंने कहा, इससे पहले अहमदाबाद के एक स्कूल में बच्चों के हाथ से राखी उतरवा दी गई थी। लोगों को पता चला तो स्कूल परिसर में जमकर हंगामा हुआ। 

Related Articles

Back to top button