गर्मी से मिलेगी राहत, होगी झमाझम बारिश; चक्रवाती तूफान से बदलेगा देश का मौसम

 नई दिल्ली।
 भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मंगलवार को कहा कि दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है, जिसके 6 मई के आसपास तेज होकर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है। अगले कुछ दिनों में आसपास के क्षेत्र में बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

अंडमान के हालात के बारे में बात करते हुए आईएमडी के वरिष्ठ वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने सोमवार को कहा, 'अंडमान में 4 मई को सिस्टम बन रहा है। 6 मई को लो प्रेशर बनेगा और फिर यह और तेज हो जाएगा। दक्षिण अंडमान और बंगाल की खाड़ी के आसपास के इलाकों में रहने वालों के लिए हम चेतावनी जारी कर रहे हैं। हमने लोगों से वहां नहीं जाने के लिए कहा है क्योंकि इस बात के संकेत हैं कि सिस्टम तेज हो जाएगा। हमने मुख्य रूप से मछुआरों को वहां नहीं जाने के लिए कहा है।"

मौसम एजेंसी ने यह भी अपडेट किया कि अगले 4-5 दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिम, मध्य और पूर्वी भारत में कोई हीटवेव की स्थिति की उम्मीद नहीं है। चक्रवाती तूफान के प्रभाव में 4 और 5 मई को निकोबार द्वीप समूह में भारी वर्षा और 6 और 7 मई को अंडमान द्वीप समूह में भारी से बहुत भारी वर्षा की संभावना है। इस बीच निचले क्षोभमंडल स्तरों में प्रायद्वीपीय भारत पर हवा के रुकने के कारण अगले 5 दिनों के दौरान केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। इसके अलावा तीन और चार मई को केरल-महाराष्ट्र में और पांच मई को तमिलनाडु-पुदुचेरी-कराइकल में भारी वर्षा की भविष्यवाणी की गई है। बंगाल की खाड़ी से दक्षिण-पश्चिमी हवाओं के प्रभाव में अगले 5 दिनों के दौरान पूर्वोत्तर भारत और पश्चिम बंगाल-सिक्किम में हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है।

Related Articles

Back to top button