अब तक ऊधमसिंह नगर में नकली सीमेंट बनाने की पकड़ी जा चुकी हैं तीन फैक्ट्रियां

रुद्रपुर
ऊधमसिंह नगर औद्योगिक नगरी होने के साथ ही उत्तराखंड की सीमा उत्तर प्रदेश को छोड़ देश के अन्य राज्यों से नहीं लगी है। अंतरराष्ट्रीय सीमा नेपाल व चीन से लगती है। ऐसे में आरोपित जिले में नकली सीमेंट बनाने की फैक्ट्री खोलने में सुरक्षित महसूस करते हैं। अब तक जिले में नकली सीमेंट बनाने वाली तीन फैक्ट्रियां पकड़ी जा चुकी हैं। एसओजी ने बुधवार को सुल्तानपुर पट्टी क्षेत्र के ग्राम पंचायत कनौरी में नकली सीमेंट की फैक्ट्री पकड़ी है। नकली सीमेंट के साथ आरोपित भी पकड़े गए हैं। इससे पहले भी पिछले साल नौ जुलाई को एसओजी ने गदरपुर में नकली सीमेंट की फैक्ट्री पकड़ी थी। फैक्ट्री संचालित करने वाले राकेश पाल, प्रेम शंकर और मो.इस्माइल उर्फ भूरा को गिरफ्तार किया था। नकली सीमेंट और खाली कट्टे बरामद हुए थे।आरोपितों के पास से एक बैग में पुलिस को दो डायरी भी मिली थी।

जिसमें एक डायरी में मेरठ, अलवर, राजस्थान, कानपुर से खरीदे गए 9.50 लाख रुपये की राख व रॉ मैटेरियल के बिल बरामद हुए। जबकि दूसरी डायरी दोराहा, बाजपुर, बन्नाखेड़ा, गदरपुर, स्वार, कनौरा में मनरेगा समेत अन्य निर्माण कार्य के लिए बेचे गए नकली सीमेंट की जानकारी थी। पिछले साल ही दो नवंबर को रुद्रपुर के किरतपुर में एसओजी ने छापेमारी की तो एक गोदाम में सीमेंट को पीस कर ब्रांडेड सीमेंट के बैग में भरकर बाजार में सप्लाई करते पकड़ा गया। टीम ने गोदाम में रखे 250 कट्टे सहित गोदाम को सील कर दिया था।

लोगों का कहना है कि यूएस नगर में काशीपुर, केलाखेड़ा, बाजपुर, रुद्रपुर, पंतनगर, सितारगंज सहित कई क्षेत्रों में काफी संख्या में छोटे-बड़े उद्योग लगे हैं।इसकी आड़ में नकली सीमेेंट बनाने वाले सक्रिय हो जाते हैं। यूएस नगर की सीमा से लगे रामपुर, पीलीभीत,मुरादाबाद, बिजनौर, बरेली जिलों के साथ अन्य जिलों में नकली सीमेंट सप्लाई करते हैं। यूएस नगर में काफी संख्या में उद्योग होने से सीमेंट को लेकर कोई शक नहीं करता है।

 

Related Articles

Back to top button