मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर कब-कब दी है राहत? क्या है टैक्स का गणित..यहां समझें

नई दिल्ली
केंद्र सरकार ने आम आदमी को बड़ी राहत देते हुए पेट्रोल और डीजल (Petrol diesel price) पर एक्साइज ड्यूटी कम कर दिया है। पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी ( petrol diesel excise duty) 8 रुपये और डीजल पर 6 रुपये घटा दिया गया है। इस कटौती के बाद आम आदमी को बड़ी राहत मिली है। दिल्ली समेत देशभर में पेट्रोल और डीजल के दाम कम हो गए हैं।

जानिए कितनी कम हुई एक्साइज ड्यूटी
पेट्रोल पर 8 रुपये और डीजल पर 6 रुपये प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी घटने के बाद अब पेट्रोल पर 19.90 और डीजल पर 15.80 रुपये एक्साइज ड्यूटी चार्ज लगेगा। इससे पहले सरकार पेट्रोल पर 27.90 और डीजल पर 21.80 रुपए एक्साइज ड्यूटी के रूप में वसूल रही थी।

पेट्रोल-डीजल पर टैक्स का खेल
आपको बता दें कि अब तक जिस भाव पर हम पेट्रोल और डीजल की खरीद करते रहे हैं, उनमें से टैक्स 46% होता है।  केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी लगाती है तो राज्य सरकारें इसपर वैट और सेस यानी अतिरिक्त टैक्स लगाते हैं। यही वजह है कि देश अलग-अलग हिस्सों में पेट्रोल और डीजल के दामों में काफी अंतर होता है।  

पेट्रोल पर टैक्स
उदाहरण में इस तरह समझते हैं मान लीजिए  22 मई 2022 को दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल 96.72 रुपये और डीजल का भाव 89.62 रुपये है। एक लीटर पेट्रोल का बेस प्राइस 56.35 रुपये होता है। इसमें Freight (भाड़ा) 20 पैसा लगता है। एक्साइज ड्यूटी अब 19.9 रुपये प्रति लीटर लगेगा। इस पर डीलर कमीशन 3.78 रुपये और वैठ 15.17 रुपये कटेगा। कुल मिलाकर एक लीटर पेट्रोल के लिए आपको दिल्ली में 96.72 रुपये लीटर पड़ेगा।

डीजल पर टैक्स
इसी तरह डीजल पर भी टैक्स टैलकुलेट किया जाता है। मान लीजिए दिल्ली में एक लीटर डीजल की कीमत आज 89.62 रुपये लीटर है। इसमें बेस प्राइस 57.94 रुपये प्रति लीटर कटता है। इसमें भाड़ा 22 पैसे लगता है। अब एक्साइज ड्यूटी 15.8 रुपये लगेगा। डीलर कमीशन 2.57 रुपये और वैट 13.11 रुपये देना होगा। कुल मिलाकर एक आम आदमी को एक लीटर डीजल के लिए दिल्ली में 89.62 रुपये देने होंगे।

कब-कब मोदी सरकार ने दी है राहत
आपको बता दें कि मोदी सरकार अपने कार्यकाल में कई बार एक्साइज ड्यूटी पर कटौती का ऐलान कर चुके हैं। इससे पहले सरकार ने पिछले साल दीपावली से एक दिन पहले यानी 3 नवंबर 2021 को एक्साइज ड्यूटी कम किया गया था। साल 2018 में सरकार ने दो बार एक्साइज ड्यूटी घटाया था। एक बार 2 फरवरी 2018 और फिर 5 अक्टूबर 2018 को टैक्स घटाने का फैसला किया गया था। इसके अलावा साल 2017 में भी पेट्रोल और डीजल पर टैक्स घटाए गए थे। 

Related Articles

Back to top button