कारगिल में जब PM मोदी ने जवानों के संग गाया ‘वंदे मातरम’

श्रीनगर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस साल भी भारतीय सैनिकों के जवानों के संग दिवाली मनाई। इस साल वह कारगिल पहुंचे थे। इस दौरान पीएम मोदी ने जवानों के बीच मिठाइयां बांटी साथ ही उनके साथ मिलकर राष्ट्र गीत 'वंदे मातरम' भी गाया। साथ ही जवानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हम युद्ध को पहला नहीं बल्कि हमेशा अंतिम विकल्प मानते हैं और शांति में विश्वास करते हैं।

लद्दाख के करगिल में जवानों के साथ दिवाली मनाने पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी ने जवानों को संबोधित करते हुए कहा, ''हम शांति में विश्वास करते हैं, लेकिन शांति सामर्थ्य के बिना संभव नहीं है।'' प्रधानमंत्री ने कहा कि जब-जब भारत की ताकत बढ़ती है, तब-तब वैश्विक शांति और समृद्धि की संभावना भी बढ़ती है।

उन्होंने  6 मिनट तक लगातार जवानों की तारीफ में कसीदे पढ़ें, कविता की पंक्तियों के जरिए उनका हौसला बढ़ाया. कभी उनकी तुलना तेजस से की तो कभी ब्रह्मोस जैसी उनकी ललकार बताई. आप भी पढ़िए पीएम मोदी की जवानों को समर्पित ये कविता-

तन तिरंगा मन तिरंगा, चाहत तिरंगा, राह तिरंगा
विजय का विश्वास गरजता
सीमा से भी चौड़ा सीना
संपनों में संकल्प सुहाता
कदम-कदम पर दम दिखाता
भारत की गौरव की शान
तुम्हें देख रहा हर भारतीय गर्व से भर आता

वीर गाथा घर-घर गूंजे, नर-नारी सब शीश नवाए
सागर से गहरा स्नेह हमारा, अपने भी हैं, और सपने भी हैं
देशहित सब किया समर्पित

अब देश के दुश्मन जान गए हैं
लोहा तेरा मान गए हैं
भारत के गौरव की शान
तुम्हें देख हर भारतीय गर्व से भर आता है
प्रेम की बात चले तो सागर शांत हो तुम
पर देश पर नजर उठी तो वीर, वज्र विक्रांत हो तुम

एक निडर अग्नि, एक आग हो तुम,
निर्भय, प्रचंड और नाग हो तुम
अर्जुन, पृथ्वी, अरिहंत हो तुम
हर अंधकार का अंत हो तुम

तुम यहां तपस्या करते हो
वहां देश धन्य हो जाता है
भारत के गौरव की शान
तुम्हें देश हर भारतीय गर्व से भर जाता है

स्वाभिमान से खड़ा हुआ मस्तक हो तुम
आसमान में तेजस की हुंकार हो तुम
दुश्मन की आंख में आंख डाल जो बोले
ब्रह्मोस की अजय ललकार हो तुम

है ऋणी हम तुम्हारे हर पल
यह सत्य देश दोहराता है
भारत के गौरव की शान
तुम्हें देख हर भारतीय गर्व से भर आता है

पीएम मोदी ने कहा, ''राष्ट्र की सुरक्षा के लिए 'आत्मनिर्भर भारत' बहुत महत्वपूर्ण है और विदेशी हथियारों तथा प्रणाली पर हमारी निर्भरता न्यूनतम होनी चाहिए।'' प्रधानमंत्री ने विश्वास जताया कि सशस्त्र बलों में महिलाओं को शामिल करने से देश की ताकत बढ़ेगी। उन्होंने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ निर्णायक लड़ाई जारी है और भ्रष्टाचारी कितना भी ताकतवर हो उसे छोड़ा नहीं जाएगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत की प्रतिष्ठा विश्व स्तर पर बढ़ी है, यह और तेजी से बढ़ रही है और ऐसा इसलिए संभव हो पाया है क्योंकि यह बाहर और अंदर के दुश्मनों से सफलतापूर्वक निपट रहा है।

उन्होंने कहा, ''एक राष्ट्र तब सुरक्षित होता है जब सीमाएं सुरक्षित हों, अर्थव्यवस्था मजबूत हो और समाज विश्वास से भरा हो।'' लोगों को दिवाली की बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि भारत कामना करता है कि प्रकाश का यह त्योहार दुनिया के लिए शांति का मार्ग प्रशस्त करे।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत की प्रतिष्ठा विश्व स्तर पर बढ़ी है, यह और तेजी से बढ़ रही है और ऐसा इसलिए संभव हो पाया है क्योंकि यह बाहर और अंदर के दुश्मनों से सफलतापूर्वक निपट रहा है।

उन्होंने कहा, ''एक राष्ट्र तब सुरक्षित होता है जब सीमाएं सुरक्षित हों, अर्थव्यवस्था मजबूत हो और समाज विश्वास से भरा हो।'' लोगों को दिवाली की बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि भारत कामना करता है कि प्रकाश का यह त्योहार दुनिया के लिए शांति का मार्ग प्रशस्त करे।

 

 

Related Articles

Back to top button