Wednesday, January 27th, 2021
Close X

ऑस्कर की रेस में 'जलीकट्टू' की एंट्री

हर साल ऑस्कर में इंटरनैशनल फीचर फिल्म या विदेशी भाषा की फिल्म कैटिगरी के लिए अलग-अलग देशों से फिल्में भेजी जाती हैं। भारत से भी एक फिल्म भेजी जाती हैं और इस साल भारत की तरफ से मलयालम फिल्म 'जलीकट्टू' इस कैटिगरी में ऑफिशल एंट्री है। ऑस्कर में जाने से पहले यह फिल्म भारतीय और विदेशी अवॉर्ड्स जीत चुकी है।

इस फिल्म का प्रीमियर सबसे पहले 6 सितंबर 2019 को टोरंटो इंटरनैशनल फिल्म फेस्टिवल में किया गया था जहां इसकी काफी तारीफ हुई थी। इसके बाद 4 अक्टूबर 2019 को इसे केरल राज्य में रिलीज किया गया था। यह फिल्म बुसान इंटरनैशनल फिल्म फेस्टिवल में भी प्रदर्शित की गई थी। 50वें इंटरनैशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया में इस फिल्म के डायरेक्टर लिजो जोस पेल्लिसेरी को बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड मिला था। इसके अलावा फिल्म को अन्य अवॉर्ड भी मिल चुके हैं।

क्या है फिल्म की कहानी
कलन वर्की एक कसाई है जो भैंसों को काटता है। पूरा गांव उसी के काटे हुए मीट पर निर्भर है। तभी वहां से एक उत्पाती भैंसा भाग जाता है और फिर उसे पकड़ने के लिए पूरा गांव लग जाता है। फिल्म में इसके साथ ही कई साइड स्टोरी भी चलती हैं जिसमें गांव की गरीबी, अशिक्षा, बेरोजगारी जैसी समस्याओं को उठाया गया है। फिल्म में एंटोनी वर्गीज, चेंबन विनोद जोस, सैंथी बालाचंद्रन जैसे कलाकारों ने मुख्य भूमिका निभाई है।

Source : Agency

आपकी राय

12 + 2 =

पाठको की राय