Tuesday, May 11th, 2021
Close X

दर्दनाक हादसा, ननिहाल आए 2 भाई आग में जिंदा जले

बक्सर 
बिहार के बक्सर जिले के बिझौरा पंचायत के कर्मी गांव में रविवार दोपहर में आग लग जाने से ननिहाल में आये दो सहोदर मासूम भाइयों की जलकर दर्दनाक मौत हो गई। अगलगी में  आधा दर्जन आशियाने जलकर खाक हो गए। इस हृदय विदारक घटना से पूरे गांव में मातम छा गया है। मृत मासूमों का नाम आकांछू कुमार (6 वर्ष) और रीतिक कुमार (4 वर्ष) बताया गया है, जो रामबली यादव व पूनम देवी के पुत्र थे। दोनों अपनी मां के साथ ननिहाल में रोहतास के सलथुआं अपने घर से आए हुए थे। 

मिली जानकारी के अनुसार, कर्मी गांव में आग ने तेज दोपहरी में लगभग 3 बजे अपना रौद्र रूप दिखाया तो सभी के घर जलने लगे। इसीबीच घर में हो सो रहे दो मासूमों की जिंदगी सहित कई आशियाने राख में बदल गए। बताया गया है कि जनार्दन यादव की बेटी पूनम देवी 15 दिन पहले अपने ससुराल सलथुआ रोहतास से दोनों बेटों अकांछु कुमार व रितिक कुमारलेकर आयी थी। पर उसे क्या मालूम था कि उसके पिता का घर ही उसके हृदय के टुकड़ों के लिए अभिशाप बन जायेगा। उसकी जिंदगी में अंधेरा छा जाएगा। जब आग लगी तो उस समय घर में कोई नहीं था। सब बधार में गये थे। 

अकांछु व रितिक  अपने नाना के घर मे आराम की नींद सोये हुए थे। पर उन्हें क्या मालूम कि वे इतनी गहरी नींद सो जाएंगे कि फिर कभी दोबारा नही जग पाएंगे। जब घर से धुआं व आग की लपटें निकलने लगी तो अगल बगल के लोग उस तरफ दौड़े। पर तब तक बहुत देर हो चुकी थी। दोनों मासूम खाक में बदल चुके थे। तत्काल थाना व दमकल को उसकी सूचना दी गयी। इसे बाद आग पर काबू पाया गया। आग से ब्रज बिहारी सिंह, सुरेंद्र सिंह, श्याम मोहन पासवान, राम प्रवेश सिंह, जय प्रकाश सिंह की भी झोपड़ी भी जल गई है। गांव में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। गांव में अधिकारी सहित जनप्रतिनिधियों ने पहुंचकर ढांढस बंधाया।

Source : Agency

आपकी राय

1 + 12 =

पाठको की राय