Monday, June 14th, 2021
Close X

एफआईआर दर्ज कराए जाने के बाद सुनील पाल ने मांगी माफ़ी

मशहूर कॉमेडियन सुनील पाल कोरोना काल में भगवान बने डॉक्टरों पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर बुरे फंस गए हैं. उनका एक वीडियो वायरल हो रहा था, जिसमें उन्होंने डॉक्टर्स के लिए अपशब्द कहे थे. इस वीडियो से नाराज एसोसिएशन ऑफ मेडिकल कंसल्टेंट्स (मुंबई) ने सुनील के खिलाफ FIR दर्ज करवाई थी. एफआईआर दर्ज कराए जाने के बाद अब सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के साथ उन्होंने फेसबुक पर एक वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें उनका कहना है कि डॉक्टर्स के लिए उन्होंने कोई अपशब्द नहीं कहे.

सुनील पाल  ने देर रात एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वह कह रहे हैं, 'जैसा कि आप जानते हैं कि अंधेरी पुलिस स्टेशन में मेरे खिलाफ एक एफआईआर हुई है. मेडिकल से जुड़े लोगों का कहना है कि मैंने उनके लिए, डॉक्टर्स की टीम के लिए कुछ भला-बुरा कहा है, हालांकि मैंने सबके लिए नहीं कहा, आजू-बाजू के वातावरण को देखते हुए कहा है. आज भी मेरी नजर में डॉक्टर भगवान का रूप हैं. कहीं कोई गड़बड़ होता है तो पेशा बदनाम होता है. नीम हकीम खतरा ए जान, सौ में से अस्सी बेईमान फिर भी मेरा देश महान, ये हमारे पूर्वजों ने कुछ सोच समझकर ही कहे होंगे.. मेरा दिल अभी भी कहता है कि कोई गलती हुई हो या किसी का दिल दुखा हो तो मैं माफी मांगता हूं. आप सब जियो हजारों साल. एक बार फिर से आई एम रियली रियली सॉरी'.

दरअसल, अंधेरी पुलिस ने डॉ. सुष्‍म‍िता भटनागर की श‍िकायत पर मंगलवार को एफआईआर दर्ज की है. डॉ. सुष्‍म‍िता भटनागर , एसोसिएशन ऑफ मेडिकल कंसल्‍टेंट्स (मुंबई) की प्रेसिडेंट हैं.

अंधेरी पुलिस के सीनियर इंस्‍पेक्‍टर विजय बेलगे ने सुनील पाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने की पुष्टि की है. उन्‍होंने बताया कि सुनील पाल के ख‍िलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 500 (मानहानि) और 505 (2) (सार्वजनिक दुराचार) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

Source : Agency

आपकी राय

10 + 1 =

पाठको की राय