Friday, October 22nd, 2021
Close X

76वें सत्र में आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन जैसे मु्द्दों पर विश्व के नेताओं को पीएम मोदी करेंगे संबोधित

न्यूयॉर्क
संयुक्त राष्ट्र महासभा के मौजूदा सत्र में भारत अंतरराष्ट्रीय मुद्दों को जोर-शोर से उठाएगा। संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के स्थाई प्रतिनिधि टीएस त्रिमूर्ति ने यह बात न्यूज एजेंसी पीटीआई को दिए साक्षात्कार में बताई। उन्होंने बताया कि मौजूदा 76वें सत्र में आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन, कोरोना वैक्सीन की उपलब्धता जैसे मुद्दों को उठाएगा।

उन्होंने बताया कि यूएनजीए के 76वें सत्र में कोरोना महामारी और अफगानिस्तान के मौजूदा हालात जैसे मुद्दे प्रमुख रहेंगे। इसके अलावा आर्थिक मंदी, आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन, मध्य एशिया व अफ्रीका में छिड़े सीमा विवाद जैसे मुद्दों पर भी चर्चा होगी।

टीएस त्रिमूर्ति ने बताया कि इस साल मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद की अध्यक्षता में 14 सितंबर से संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र की शुरुआत हुई। मंगलवार यानी 21 सितंबर को इस सत्र में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन दुनिया के अन्य नेताओं को संबोधित करेंगे। वहीं 25 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सत्र को संबोधित करने वाले हैं। उन्होंने बताया कि दुनिया के नेताओं के लिए भारत के पीएम का संबोधन खास होने वाला है।  

संयुक्त राष्ट्र महासभा का 76वां सत्र भारत के काफी खास है। क्योंकि भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता कर रहा है। ऐसे में भारत, विश्व के सभी देशों के सामने मजबूती से अपनी बात को रख सकता है। टीएस त्रिमूर्ति ने कहा कि जलवायु परिवर्तन, सतत विकास, वैक्सीन की उपलब्धता, आर्थिक मंदी, महिला सशक्तिकरण, महिलाओं की सरकार में भागेदारी, आतंकवाद जैसे मुद्दों पर विशेष चर्चा की जाएगी।

संयुक्त राष्ट्र सचिव जनरल एंटोनियो गुटेरेस की ओर से आयोजित तीन बैठकों में भी भारत प्रतिभाग करेगा। यह बैठक जलवायु व ऊर्जा जैसे मुद्दों पर होगी।

 

Source : Agency

आपकी राय

13 + 8 =

पाठको की राय