Tuesday, January 25th, 2022

'द मैट्रिक्‍स 4' में देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा 'सती' के रोल में

The Matrix ऐसी फिल्‍म सीरीज है, जिसने साइंटिफिक-फिक्‍शन के फैंस को दीवाना बना दिया। कह सकते हैं कि हिंदुस्‍तान की जुबान पर इस तरह की हॉलिवुड फिल्‍मों का फ्लेवर यहीं से चढ़ा। 'मैट्रिक्‍स फ्रेंचाइजी' की पहली फिल्‍म 20 साल पहले 1999 में रिलीज हुई थी। ऐसे में The Matrix Resurrections यानी The Matrix 4 ऐसे समय आ रही है, जब 'एवेंजर्स फ्रेंचाइजी' की फिल्‍में भारत में कई बॉलिवुड फिल्‍मों से ज्‍यादा कमा लेती हैं। सोने पर सुहागा ये कि 'द मैट्रिक्‍स 4' में देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा भी हैं। ऐसे में पर्दे पर एक बार फिर नियो और ट्रिनिटी को देखने के लिए हर किसी के दिल में अभी से ललक जग गई है। लेकिन पहले ही दिन से या यह कहें कि टीजर रिलीज के बाद से ही हर किसी के मन में यह सवाल घुमड़ रहा था कि प्रियंका चोपड़ा का फिल्‍म में क्‍या रोल है? क्‍या प्रियंका चोपड़ा 'द मैट्रिक्‍स' की सती हैं? जिन लोगों ने सीरीज की पिछली फिल्‍में नहीं देखी हैं, वह यह भी सोच रहे हैं कि आख‍िर ये 'सती' है कौन? आपके हर सवाल का जवाब यहां है-

- 'द मैट्रिक्‍स 4' 22 दिसंबर के दिन रिलीज हो रही है। फिल्‍म का टीजर और ट्रेलर भी आ चुका है। कियानू रीव्स, नियो बनकर एक बार फिर ऐक्‍शन अवतार में धमाल मचा रहे हैं। यह भी कंफर्म हो चुका है कि प्रियंका चोपड़ा फिल्‍म में 'सती' के किरदार में हैं। सोशल मीडिया पर फैंस अभी से फिल्‍म की कहानी और सती के किरदार को लेकर अलग-अलग अनुमान लगा रहे हैं।

- फिल्‍ममेकर 'वार्नर ब्रदर्स कोरिया' के इंस्‍टाग्राम पेज पर इस बात की पुष्‍ट‍ि हो गई है कि प्रियंका चोपड़ा 'सती' के रोल में हैं। फिल्‍म की कहानी के हिसाब से सती राम-कंद्रा और कमला की बेटी है। सती की उत्‍पति या यह कहें क‍ि जन्‍म बिना किसी मकसद के हुआ है। वह प्‍यार की निशानी है। ऐसे में हमेशा उसे 'मौत' का खतरा है। हालांकि, सती जिंदा है और ऑरेकल उसकी सुरक्षा कर रही हैं। ऑरेकल को लगता है कि सती मैट्रिक्‍स वर्ल्‍ड में एक खास भूमिका निभा सकती है। तो क्‍या सती ही अगली ऑरेकल बनेगी।

- 'द मैट्रिक्‍स' फ्रेंचाइजी की पहली फिल्‍म थी। यह 1999 में रिलीज हुई थी। इसके बाद 2003 में 'द मैट्रिक्‍स रीलोडेड' और फिर उसी साल 2003 में ही 'द मैट्रिक्‍स रिवॉल्‍यूशन' रिलीज हुई थी। ये सभी फिल्‍में लाला वाचोव्‍सकी और उनकी बहन लिली वाचोव्‍सकी ने डायरेक्‍ट की हैं।

- 'द मैट्रिक्‍स 4' में पुरानी फिल्‍मों से कई किरदार लिए गए हैं, जबकि कुछ नए किरदार भी जोड़े गए हैं। नियो या थॉमस एंडरसन के रोल में कियानू रीव्‍स की वापसी हुई है। जबकि ट्रि‍निटी के रोल में कैरी-ऐनी मॉस भी लीड रोल में हैं। नायोबी के किरदार में जैडा पिंकेट हैं।

- 'द मैट्रिक्‍स' की मूल कहानी यह है कि इंसान कृत्रिम बुद्धि यानी आर्टिफिश‍ियल इंटेलीजेंस (AI) का निर्माण करते हैं। लेकिन इस AI मशीनों में खुद की चेतना आ जाती है और ये बगावत कर देते हैं। अब इंसान और मशीनों के बीच युद्ध जैसी स्‍थ‍िति है। AI मशीनों को सूरज से ऊर्जा यानी एनर्जी मिलती है। इंसान प्रदूषण पैदा कर आकाश को काला कर देते हैं, मशीनों को एनर्जी न मिले। लेकिन AI इंसानों की खेती करने लगते हैं और उसे ही अपना एनर्जी सोर्स बना लेते हैं। मशीन जीत जाते हैं और इंसानों की हार हो जाती है।

- अब ऊर्जा उत्‍पन्‍न करने के लिए 'मैट्रि‍क्‍स' का निर्माण होता है। यह एक वर्चुअल रि‍यलिटी है, जिसमें सभी इंसान अनजान होते हुए भी उससे जुड़े रहते हैं और उनका जीवन सामान्य रूप से चलता रहता है। मशीन इसके बारे में जान जाते हैं। इसलिए AI मशीन कुछ इंसानों को मैट्रिक्स से डिस्कनेक्ट कर देते है, ताकि वह आजाद हो जाएं।

- मैट्रिक्स हमारी आम दुनिया की तरह ही एक सिस्टम है, जिसमें खामियां हैं। इसकी प्रोग्रामिंग ऐसी की गई है कि कुछ इंसान समय आने पर इसके अस्तित्व को जान लें और मैट्रिक्स से बाहर वास्तविक दुनिया में जाने के लिए बागी हो जाएं। इंसानों की इस आदत पर रोक लगाने के लिए मैट्रिक्स से बाहर जायन नाम का एक शहर बसाया गया है। यह मैट्रिक्‍स से बाहर निकले इंसानों के लिए है और पृथ्वी की गहराई में है। मैट्रिक्‍स एक ऐसे AI को चुनती है जो बाहर निकलने के बाद लोगों को संगठित करे और उनकी लड़ाई का लीडर बने।

- फिल्‍म का हीरो नियो इसी प्रोग्राम का एक हिस्सा है। उसे पूरे प्‍लान का पता अंत में चलता है। इस कहानी में एक और सबसे महत्‍पूर्ण किरदार है ऑरेकल का। ऑरेकल को इस प्‍ले प्‍लान की जानकारी है। वह इंसानों को गाइड करती है। मैट्रिक्स के अब तक छह वर्जन बन चुके हैं। पहले के पांच वर्जन में ऑरेकल इंसानों को धोखा देखकर उस तरफ भेजती है, जहां AI हैं। लेकिन छठे चक्र में पता चलता है कि ऑरेकल दोनों तरफ से खेल रही है। यानी इंसानों के साथ भी और AI मशीनों के साथ भी।

- पिछली तीन फिल्‍मों के अंत तक यह भेद खुलने लगता है कि ऑरेकल किस तरह इंसानों के साथ खेल खेल रही थी। ऐसा ही खेल वह AI के साथ भी खेलती है। इसलिए तीसरी फिल्‍म के अंत में अंत में मैट्र‍िक्‍स का आर्किटेक्ट उससे कहता है, 'तुमने बहुत खतरनाक खेल खेला है। ऑरेकल जवाब देती है, 'बदलाव या परिवर्तन हमेशा ही खतरनाक होता है।'

- अब तक की कहानी से यह साफ है कि फिल्‍म के केंद्र में हीरो नियो नहीं, बल्‍क‍ि ऑरेकल है। कहानी ऑरेकल के हिसाब से ही घूम रही थी। अब सती एक ऐसी बच्‍ची है, जो ऑरेकल की सुरक्षा में हैं। ऑरेकल का अंत आ गया है। ऐसे में कयास यही लग रहे हैं कि प्रियंका चोपड़ा जो कि सती है और बड़ी हो चुकी है, वही अब अगली ऑरेकल बनेगी।

Source : Agency

आपकी राय

11 + 6 =

पाठको की राय