कृषि, वानिकी व मत्स्य उत्पादन रिपोर्ट 2022 अनुसार, फल-सब्जी के मामले में यूपी की हिस्सेदारी बढ़ी

लखनऊ
 
यूपी में सब्जी व फल का उत्पादन तेजी से बढ़ रहा है। इसमें राज्य की हिस्सेदारी 7.2 प्रतिशत से बढ़कर 9.4 प्रतिशत हो गई है। एक और आम व केले की पैदावार खूब बढ़ रही है तो आलू-टमाटर का भी उत्पादन बढ़ा है। सब्जी व फल के उत्पादन मूल्य के हिसाब से यूपी देश में चौथे स्थान पर है लेकिन इसमें पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र व तमिलनाडु अभी आगे हैं। खास बात यह कि फलों में केले की हिस्सेदारी देश में 8.7 प्रतिशत से बढ़कर 9.2 प्रतिशत हो गई है। पर अभी भी आम की हिस्सेदारी 10 प्रतिशत से ज्यादा है। इस तरह फलों की खपत उत्पादन दोनों में इजाफा हुआ है। जहां तक सब्जियों की बात है तो आलू का पूरे देश में सबसे ज्यादा उत्पादन होता है। जो 7.3 प्रतिशत है। प्याज की  हिस्सेदारी 6.4 प्रतिशत व टमाटर की हिस्सेदारी 6.1 प्रतिशत है।  

केंद्र सरकार की कृषि, वानिकी व मत्स्य उत्पादन पर रिपोर्ट- 2022  के मुताबिक उपरोक्त तथ्य सामने आए हैं। इसमें दर्ज  2011-12 से 2019-20 तक हर साल उत्पादन के आकंड़े के मुताबिक फल व सब्जी की खपत पूरे देश में पहले के मुकाबले ज्यादा बढ़ रही है। पूरे देश में दाल, अनाज, तिलहन, गन्ना, फल सब्जी व अन्य के समूह में अनाज व फल सब्जी की हिस्सेदारी 52 प्रतिशत से बढ़कर 55 प्रतिशत हो गई है।
 
अनाज, दाल, गन्ना में यूपी का दबदबा
जहां तक अनाज की बात है, इसमें यूपी का दबदबा पहले भी था और आज भी हिस्सेदारी 18.5 प्रतिशत है। राज्य ने हर साल अनाज का रिकार्ड उत्पादन किया है। दाल उत्पादन में भी यूपी आगे है। पर मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गुजरात आदि राज्य भी इस क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। खास बात यह कि गेहूं के मुकाबले धान का उत्पादन पूरे देश में सबसे ज्यादा है। गन्ने के मामले में भी यूपी लंबे समय से आगे बना हुआ है।

 

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group