Amazon आईपीएल मीडिया राइट्स नीलामी की रेस से बाहर हो सकती है, रिलायंस को मिल सकता है मौका

मुंबई
 

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की समाप्ति के बाद फैन्स की नजरें मीडिया राइट्स ऑक्शन पर जा टिकी हैं. 12 जून (रविवार) को आईपीएल के अगले 5 सीजन ( 2023 से 2027) तक के लिए मीडिया राइट्स का ऑक्शन किया जाएगा. आईपीएल मीडिया राइट्स के जरिए बीसीसीआई को हजारों करोड़ रुपये की कमाई की उम्मीद है.

इसी बीच इस मीडिया राइट्स को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. दरअसल, जेफ बेजोस की कंपनी Amazon आईपीएल मीडिया राइट्स की रेस से बाहर हो सकती है. अगर ऐसा होता है तो मुकेश अंबानी की रिलायंस आईपीएल मीडिया राइट्स को हासिल करने की दौड़ में काफी आगे निकल जाएगी.

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक अमेजन आईपीएल मीडिया राइट्स के लिए जंग से बाहर निकलने के मूड में है. सूत्रों के मुताबिक अमेरिकी दिग्गज कंपनी ने पहले ही देश में 6 बिलियन डॉलर से अधिक का निवेश किया है, अब सिर्फ ऑनलाइन स्ट्रीमिंग राइट्स के लिए खर्च करना व्यावसायिक रूप से सही नहीं होगा, हालांकि अमेजन की ओर से आधिकारिक तौर पर कोई बयान नहीं आया है.

ई-नीलामी कब है?

आईपीएल ने पहली बार ई-नीलामी के जरिए बोली लगाने का फैसला किया है. यह नीलामी 12 जून को मुंबई में सुबह 11 बजे से शुरू होने जा रही है और बिड्स खत्म होने तक यह ऑक्शन जारी रहेगा. खरीदे गए राइट्स आईपीएल के 5 सीजन (2023 से 2027) के लिए मान्य होंगे. आईपीएल मीडिया राइट्स के लिए इस बार 50 से 60 हजार करोड़ रुपये तक की बोली लग सकती है.

कितने पैकेज हैं?

चार पैकेज हैं- ए, बी, सी और डी. पैकेज-ए में केवल भारतीय उपमहाद्वीप के टीवी राइट्स शामिल हैं. पैकेज-बी केवल भारतीय उपमहाद्वीप में प्रसारण के लिए डिजिटल राइट्स दिए जाएंगे.  पैकेज-सी में सीमित मुकाबलों जैसे प्लेऑफ के लिए डिजिटल राइट्स दिए जाएंगे जो कि सिर्फ भारतीय उपमहाद्वीप में प्रसारण के लिए होंगे. वहीं पैकेड-डी में दुनिया के बाकी हिस्सों में प्रसारण के लिए टीवी और डिजिटल के लिए राइट्स प्रदान किए जाएंगे.

पैकेज-सी में कौन से मैच शामिल हैं?

पैकेज-सी में 'स्पेशल पैकेज' मैच शामिल हैं. यदि आईपीएल में 74 मैच होते हैं, तो विशेष पैकेज में 18 मैच होंगे. अगर एक सीजन में 84 मैच हैं, तो स्पेशल पैकेज में मैचों की संख्या 20 होगी. अगर टूर्नामेंट में 94 मैच हैं, तो स्पेशल पैकेज में 22 मैच होंगे. आईपीएल ने यह भी बताया है कि यदि सीजन में 74 से कम मैच होते हैं, तो विशेष पैकेज में खेलों की संख्या आनुपातिक रूप से निर्धारित की जाएगी.

बिडिंग प्रकिया कैसे काम करती है?

चार पैकेजों में से प्रत्येक का प्रति मैच बेस प्राइस अलग है. बोली लगाने वाले फर्म को एक राशि सूचीबद्ध करनी होगी, जो कम से कम संचयी (Culmulative) बेस प्राइस (प्रत्येक पैकेज के लिए 74 xबेस प्राइस) हो. सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले को अलग-अलग पैकेज के अधिकार मिलेंगे.

प्रत्येक पैकेज के लिए प्रति मैच बेस प्राइस क्या है?

पैकेज-ए के लिए प्रति मैच बेस प्राइस 49 करोड़ रुपये (लगभग 6.3 मिलियन अमेरिकी डॉलर) है. पैकेज-बी के लिए यह प्रति मैच 33 करोड़ रुपये (लगभग 4.2 मिलियन अमेरिकी डॉलर) है. वहीं, पैकेज-सी के लिए यह प्रति मैच 11 करोड़ रुपये (लगभग 1.4 मिलियन अमेरिकी डॉलर) है. पैकेज डी के लिए यह प्रति मैच 3 करोड़ रुपये (लगभग 390,000 अमेरिकी डॉलर) है.

ऐसे में पैकेज-ए का बेस प्राइस 74 x 49 करोड़ x 5 (सीजन) = 18130 करोड़ (2.33 बिलियन अमेरिकी डॉलर) होगा. पैकेज-बी की बात करें तो इसका बेस प्राइस 12210 करोड़ रुपये (1.57 अरब अमेरिकी डॉलर) होगा. वहीं पैकेज-डी के लिए यह 1,110 करोड़ रुपये (142.8 मिलियन अमेरिकी डॉलर) रहने जा रहा है.

क्या सभी पैकेज के लिए एक साथ बोली लगाए जाएंगे?

पैकेज-ए और बी के लिए बोलियां एक साथ जमा की जाएंगी. एक बार दोनों पैकेजों के लिए विजेता बोली का निर्धारण हो जाने के बाद पैकेज सी और डी के लिए एक साथ बोलियां जमा होंगी.

क्या आप एक से अधिक पैकेज के लिए बोली लगा सकते हैं?

हां, एक बोलीदाता एक से ज्यादा पैकेज के लिए बोली लगा सकता है. हालांकि, पैकेज ए और बी के विजेताओं के पास अतिरिक्त बोली का लाभ होगा. पैकेज ए का विजेता पैकेज बी के लिए सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले के साथ एक वार बिडिंग में एंट्री कर सकता है. पैकेज बी के विजेता पैकेज-सी और डी के लिए उच्चतम बोली लगाने वालों के साथ बिडिंग वॉर में शामिल हो सकते हैं.

इन कंपनियों में होनी है रेस

आईपीएल मीडिया राइट्स खरीदने के लिए मुख्य रूप से 5 कंपनियां आपस में भिड़ने वाली हैं. इनमें वायकॉम, डिज्नी-हॉटस्टार, सोनी, जी और अमेजन जैसी कंपनियां शामिल हैं. अब ओटीटी प्लेटफॉर्म पर भी लोग आईपीएल का लुत्फ लेते हैं, ऐसे में डिज्नी-हॉटस्टार और अमेजन जैसी कंपनियां भी राइट्स खरीदने की रेस में शामिल हैं. हालांकि अब अमेजन के रेस से बाहर होने की बात सामने आ गई है.

पिछली बार राइट्स की कीमत कितनी थी?

2017 में स्टार इंडिया ने पांच साल (2018-22) के लिए आईपीएल मीडिया राइट्स हासिल करने के लिए 16,347.5 करोड़ रुपये (तब 2.55 बिलियन अमेरिकी डॉलर) की रिकॉर्ड राशि का भुगतान किया था. यह उस समय क्रिकेट में सबसे बड़ा मीडिया अधिकार सौदा था. यह सौदा पिछले आईपीएल मीडिया राइट्स के लिए भुगतान की गई राशि से 158% अधिक था.

Related Articles

Back to top button