भारतीय वर्ल्ड कप टीम में इस गेंदबाज के ना होने से भड़के ब्रेट ली

नई दिल्ली

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ने भारतीय वर्ल्ड कप टीम को लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया है। ली ने उस भारतीय तेज गेंदबाज की वकालत की है जो 150 kmph की रफ्तार से गेंदबाजी करने के बावजूद टीम में नहीं चुना गया है। जी हां, आप सही सही समझे यहां ब्रेट ली ने जम्मू एक्सप्रेस उमरान मलिक की बात की है। ब्रेट ली का कहना है कि वह उमरान मलिक के वर्ल्ड कप टीम में ना होने से काफी हैरान हैं। उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि आपके पास दुनिया की सबसे अच्छी कार है और आप उसे गैरेज में रख देते हैं तो उस कार के होने का क्या मतलब है?

ब्रेट ली ने खलीज टाइम्स से कहा 'उमरान मलिक 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी कर रहे हैं। मेरा मतलब है कि जब आपके पास दुनिया की सबसे अच्छी कार है और आप उसे गैरेज में रख देते हैं तो उस कार के होने का क्या मतलब है? उमरान मलिक को विश्व कप के लिए भारतीय टीम में चुना जाना चाहिए था।' उन्होंने आगे कहा 'हां, वह युवा है, हां, वह रॉ हैं, लेकिन वह 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करता है, इसलिए उसे टीम में ले जाएं, उसे ऑस्ट्रेलिया ले जाएं जहां गेंद उड़ती है। 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने वाला व्यक्ति और 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने वाले में अंतर होता है।'

बीसीसीआई ने जिस 15 खिलाड़ियों की भारतीय टीम का ऐलान किया था, उसमें पहले जसप्रीत बुमराह भी शामिल थे। मगर पीठ की चोट के चलते यह स्टार तेज गेंदबाज वर्ल्ड कप से बाहर हो गया है। ऐसे में भारत के पास कोई तेज गति वाला गेंदबाज नहीं बचा है। ली ने कहा कि बुमराह के बाहर होने से सबसे ज्यादा दबाव भुवनेश्वर कुमार पर आएगा।

उन्होंने कहा 'तथ्य यह है कि बुमराह की पीठ की चोट भारत के वर्ल्ड कप जीतने की संभावनाओं के लिए बहुत बड़ा झटका है। मैं ये नहीं कह रहा हूं कि वह ऐसा नहीं कर सकते, भारत शानदार टीम है, मगर वह मजबूत टीम तब है जब उनके पास जसप्रीत बुमराह है। उनके बाहर होने से भुवनेश्वर कुमार जैसे गेंदबाज पर दबाव बढ़ेगा।'

 

Related Articles

Back to top button