प्रदेश में 21 साल बाद पारा माइनस में पहुंचा, जम गई बर्फ

मध्य प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। छतरपुर जिले के नौगांव में तापमान बीती रात -1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कई जगहों पर बर्फ जमने के वीडियो वायरल हो रहे हैं।

छतरपुर
मध्य प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। छतरपुर जिले में तापमान लगातार नीचे गिर रहा है। जिले के नौगांव में तापमान बीती रात -1 डिग्री सेल्सियत रहा। इससे नगर में कई जगहों पर पानी एवं ओस की बूंदे जम गईं। मौसम का पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट वेदर की रिपोर्ट के मुताबिक, मध्य प्रदेश में भीषण शीतलहर पड़ने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा जिससे तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जाएगी। हालांकि यह राहत ज्यादा दिन तक कायम नहीं रहेगी। मकर संक्राति से ठंड एक बार फिर से वापसी करेगी।

कई जगहों से बर्फ जमने के वीडियो हो रहे वॉयरल…
मध्य प्रदेश के नौगांव में तापमान शून्य से 1 डिग्री नीचे पहुंच गया है। इससे ओस एवं पानी की बूंदे जम गईं। नौगांव और चौका गांव से बर्फ जमने के कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। मौसम विभाग की मानें तो नौगांव के इतिहास में अभी तक का यह सबसे कम तापमान दर्ज किया गया है।

प्रदेश में आज यानी सोमवार को भी ठंड का जोर रहेगा। शीतलहर रहेगी। इसके साथ ही नॉर्थ मध्यप्रदेश में कोहरा भी रहेगा। 10 शहरों में रात का पारा 4 डिग्री सेल्सियस से कम रिकॉर्ड किया गया। इंदौर-खंडवा को छोड़ दें, तो प्रदेश भर में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से ऊपर नहीं चढ़ सका। रविवार को दिन में हल्की राहत रही। प्रदेश भर में अधिकतम तापमान जनवरी में पहली बार 25 डिग्री सेल्सियस से ऊपर चला गया।

4 दिन ऐसे रहेगा मौसम

मध्यप्रदेश में अगले 4 दिनों के दौरान मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। सोमवार यानी 9 जनवरी को प्रदेश के ग्वालियर-चंबल के इलाकों में कहीं-कहीं घना कोहरा रह सकता है। प्रदेश में शीतलहर से राहत मिलते नहीं दिख रही। सोमवार को भी अधिकांश इलाकों में शीतलहर चलेगी। बुंदेलखंड और बघेलखंड के कुछ इलाकों में जमाने वाली ठंड रहेगी। पूर्वी मध्यप्रदेश यानी बुंदेलखंड, बघेलखंड और महाकौशल में भयंकर शीतलहर का प्रकोप जारी है।

तीन दिन रहेगी राहत

10 जनवरी से मध्यप्रदेश में ठंड से कुछ राहत मिलती दिख रही है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार प्रदेश में 10 से लेकर 12 जनवरी तक न तो कोहरा न तो शीतलहर और अन्य कोई अलर्ट रहेगा। 10 जनवरी से राजस्थान और उत्तरप्रदेश में बारिश हो सकती है। ऐसे में मध्यप्रदेश में दिन और रात के तापमान में बढ़ोतरी हो सकती है। इसके बाद तेजी से तापमान नीचे आएंगे।

रात का पारा नौगांव में सामान्य से 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे आया

मध्यप्रदेश में नौगांव में न्यूनतम तापमान रिकॉर्ड स्तर पर लुढ़क गया। रात का पारा यहां पर -1 डिग्री सेल्सियस तक आ गया। यह सामान्य से 10 डिग्री सेल्सियस तक नीचे आ गया है। नौगांव, उमरिया, मलाजखंड, दतिया, पचमढ़ी, जबलपुर, खजुराहो, रीवा, सतना, ग्वालियर और रायसेन में रात का पारा 4 डिग्री सेल्सियस के नीचे आ चुका है।

भोपाल की सबसे सर्द रात

मध्यप्रदेश की राजधानी में भी शनिवार-रविवार की रात सबसे ठंडी रही। यहां पर रात का पारा पहली बार सीजन में 7 डिग्री सेल्सियस से नीचे 6 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। इंदौर और खंडवा में रात का परा सबसे ज्यादा 11 डिग्री सेल्सियस रहा। इसके अलावा प्रदेश भर में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस या उससे कम रहा।

मध्य प्रदेश के प्रमुख नगरों का तापमान
नगर………अधिकतम….. न्यूनतम (डिग्री सेल्सियस)
भोपाल……..24.3……………6.2
इंदौर……….24.3…………..11.0
ग्वालियर….24.5……………3.2
जबलपुर…..23.8……………3.6
रीवा ……..23.4……………2.4
सतना……..24.9……………4.0

कुछ दिन तक सताती रहेगी सर्दी
मौसम विशेषज्ञ डॉ. हेमंत सिन्हा ने बताया कि बीती रात छतरपुर जिले के नौगांव में न्यूनतम तापमान -1 डिग्री दर्ज किया गया। यह अब तक का सबसे कम तापमान है। कुछ दिनों तक तापमान इसी तरह रहेगा। फिर तापमान बढ़ने से कुछ राहत की उम्मीद है। कड़ाके की ठंड से आम जन जीवन प्रभावित हो रहा है। इससे फसलों को भी भारी नुकसान हो सकता है।

Show More
Back to top button
Join Our Whatsapp Group