Pravasi Bhartiya Sammelan : 50 मेहमानों को मिलेगी Z+ सुरक्षा, चप्पे-चप्पे पर रहेगी पुलिस की नजर

Pravasi Bhartiya Sammelan : सम्मेलन और समिट को लेकर सुरक्षा इंतजामों को लेकर पुलिस की पूरी तैयारी। दो शिफ्ट में रहेगी पुलिसकर्मियों की ड्यूटी। डॉक्टरों की टीम से लेकर सभी लोग अलर्ट पर है। मेहमानों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए अतिरिक्त एंबुलेंस तैनात की जाएगी

  • सम्मेलन में 9 जनवरी को प्रधानमंत्री मोदी होंगे शामिल
  •  समारोह समारोह 10 जनवरी को राष्ट्रपति होंगी शामिल
  •  तैयारियों का जायजा लेने प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा ले रहे बैठक
  •  शाम को मुख्यमंत्री फिर करेंगे सम्मेलन की तैयारियों की समीक्षा
  • विदेशों से मेहमानों के आने का सिलसिला लागातार जारी

Pravasi Bhartiya Sammelan : उज्जवल प्रदेश, इंदौर. प्रदेश में पहली बार प्रवासी भारतीय सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है। रविवार से देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में प्रवासी भारतीय सम्मेलन शुरू होने जा रहा है। सम्मेलन में शामिल होने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 9 जनवरी को आ रहे हैं। कार्यक्रम आठ जनवरी से ही शुरू होगा।

प्रवासी भारतीय सम्मेलन में प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति सहित 29 देशों के राजनयिक शामिल होंगे। 50 लोगों को जेड प्लस सुरक्षा दी जाएगी। एसपीजी की टीम निर्धारित प्रोटोकाल के तहत काम कर रही है। एक अतिरिक्त हेलीपैड का निर्माण पार्क होटल के पास किया गया है। सभी मेहमान विदेश से आ रहे हैं, इसलिए कोविड प्रोटोकाल का पालन होगा। वहीं सम्मेलन के दौरान आम जनता को परेशानी न हो, इसका पूरा प्रयास किया जाएगा।

8 जनवरी से शहर में हो रहे प्रवासी भारतीय सम्मेलन के बारे में जानकारी देते हुए प्रशासनिक अधिकारियों ने यह जानकारी दी। पत्रकार वार्ता में संभागायुक्त डा. पवन शर्मा, कलेक्टर डा. इलैयाराजा टी, पुलिस आयुक्त हरिनारायणाचारी मिश्र और निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने संबोधित किया।

50 वीआईपी को जेड प्लस सुरक्षा

इसके अलावा कहा जा रहा है कि 50 वीआईपी मेहमानों को जेड प्लस सुरक्षा दी जाएगी। इसके लिए एसपीजी की टीम प्रोटोकाल के तहत काम करेगी। साथ ही इंदौर में जहां कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है उसके पास में एक प्राइवेट हेलीपेड का भी निर्माण किया जा रहा है। ये निर्माण होटल पार्क के पास किया जा रहा है। चूंकि इस कार्यक्रम में सभी मेहमान विदेश से आ रहे हैं इसलिए सभी की सुरक्षा का ध्यान रखना भी प्रशसन की बड़ी जिम्मेदारी है। किसी को कोई परेशानी ना हो इसके लिए ही पूरे इंतजाम कर लिए गए है।

कलेक्टर ने कहा कि एयरपोर्ट पर प्रवासी भारतीयों का स्वागत शाल-श्रीफल से किया जाएगा। उनके होटल तक जाने के लिए बस, प्राइवेट कार और टैक्सी का इंतजाम है। शहर की 37 होटलों में ठहरने की व्यवस्था की गई है। होम स्टे में भी मेहमान रहेंगे। पुलिस आयुक्त ने बताया कि तीन डीआइजी, 15 एसपी स्तर के अधिकारी हमें मिले हैं। सात हजार अतिरिक्त पुलिसकर्मी और हमारे पुलिस बल के साथ कुल 10 हजार पुलिस जवान सुरक्षा व्यवस्था में रहेंगे। ड्रोन और वाच टावर की मदद से सुरक्षा की जाएगी। प्रमुख पयर्टन स्थलों पर भी अस्थायी चौकी बनाई जाएगी।

अलर्ट पर डॉक्टर्स की टीम

जानकारी के मुताबिक, कल यानी 8 जनवरी के दिन से प्रवासी भारतीय सम्मलेन और उसके बाद ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का आयोजान हो रहा है। इसके लिए शहर की 37 होटलों में मेहमानों और इन्वेस्टर्स के ठहरने की व्यवस्था की गई है। इसको लेकर डॉक्टरों की टीम से लेकर सभी लोग अलर्ट पर है।

ALSO READ

मेहमानों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए अतिरिक्त एंबुलेंस तैनात की जाएगी। कुछ मिनटों में होटलों से अस्पताल ले जाएगी। इस आयोजन को लेकर पुलिस आयुक्त ने जानकारी देते हुए बताया है कि तीन डीआइजी, 15 एसपी स्तर के अधिकारी तैनात किए गए है। वहीं 7 हजार अतिरिक्त पुलिसकर्मी और पुलिस बल के साथ इंदौर में अभी कुल 10 हजार पुलिसकर्मी सुरक्षा व्यवस्था में मौजूद रहेंगे। इसी के साथ सभी पर ड्रोन और वाच टावर की मदद से निगरानी रखी जाएगी।

तैयारियों में यह भी खास

  • हेल्प डेस्क पर बहुभाषिए रखे जाएंगे।
  • वीआइपी की गाड़ी के लिए एयरपोर्ट पर अलग गेट बनाया गया है।
  • सुपर कारिडोर का एक तरफ का रास्ता बंद किया गया है। दूसरा चालू रहेगा।
  • मेहमानों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए अतिरिक्त एंबुलेंस तैनात की जाएगी। कुछ मिनटों में होटलों से अस्पताल ले जाएगी।

डाक्टरों को अलर्ट मोड पर रहने के लिए कहा गया है

अधिकारियों के अनुसार, दो शिफ्ट में पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। इसके साथ ही 20 आइपीएस अधिकारियों की अलग-अलग स्थानों पर ड्यूटी लगाई गई है। ये लोग एयरपोर्ट, मार्ग, पार्किंग स्थल, सभा स्थल और उसके बाहर की व्यवस्था देखेंगे। शहर में बाहर से छह हजार का अतिरिक्त बल लगाया जा रहा है।

ALSO READ

एयरपोर्ट से लेकर आयोजन स्थल स्थल सहित जहां-जहां वीआइपी और अतिथियों का आवागमन रहेगा, वहां सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। आयोजन स्थल के अलावा 250 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। कार्यक्रम स्थल के पास ही हाईटेक कंट्रोल रूम बनाया गया है, जहां तीन बड़ी स्क्रीन लगाई गई हैं। यहां से लाइव मानिटरिंग की जाएगी।

 

 

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group