बिजली संकट की मार झेल रहे स्कूल-कॉलेजों को राहत, लेगेंगे सोलर इलेक्ट्रिसिटी सिस्टम

कानपुर
 
कानपुर में बिजली संकट की मार झेल रहे राजकीय हाईस्कूल और राजकीय इंटर कॉलेजों को जल्द सोलर इलेक्ट्रिसिटी सिस्टम मिलेंगे। इस योजना में नगर के 17 विद्यालय शामिल किए गए हैं। बिजली नहीं होने से न तो स्मार्ट क्लास और न कम्प्यूटर लैब चल पा रही थी। इस वजह से काफी परेशानी हो रही थी। राजकीय विद्यालयों में बिजली बिल अदा करने का अलग से कोई मद नहीं है। इससे बकाए में कनेक्शन कट जाते हैं। इसके बाद बजट की विशेष डिमांड करनी पड़ती है, जब कभी बजट आता है तो भुगतान होता है।

नेडा को ऑनग्रिड पैनल की जिम्मेदारी राज्य परियोजना निदेशक ने जिलाधिकारी और अपर राज्य परियोजना निदेशक ने डीआईओएस को पत्र भेजकर ऑनग्रिड पैनल की स्थापना की जिम्मेदारी सौंपी है। इसके लिए जिलाधिकारी की अध्यक्षता में एक कमेटी बनी है। यहां विद्यालयों की क्षमता के अनुसार सोलर पैनल लगाए जाएंगे। अतिरिक्त बिजली विभाग को दे भी सकेंगे।

यह काम हो रहे प्रभावित वाई फाई, स्मार्ट क्लास, कंप्यूटर कक्षाएं, कक्ष में प्रकाश, पंखा, कार्यालय के बोर्ड परीक्षा आदि। जीजीआईसी में स्मार्ट क्लास और जीआईसी में जिला कम्प्यूटर लैब बिजली के नहीं रहते ठप हो गई। रमसा, लेखाधिकारी, नमिता सिंह ने कहा कि राजकीय विद्यालयों को बिजली संकट से दोचार होना पड़ता था। सोलर पैनल लग जाने से यह समस्या दूर हो जाएगी। बिजली की स्थायी व्यवस्था हो जाएगी।

 

Related Articles

Back to top button