संजू सैमसन बने गेम चेंजर, रोमांचक मुकाबले में भारत ने इंडीज को 3 रन से हराया

पोर्ट आफ स्पेन

भारत और वेस्टइंडीज के बीच पोर्ट आफ स्पेन में खेला गया पहला वनडे बेहद रोमाचंक रहा। आखिरी गेंद तक चले मुकाबले में टीम इंडिया ने मेजबान टीम को 3 रन मात दे दी। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट खोकर 308 रन बनाए। जवाब में इंडीज की टीम 6 विकेट खोकर 305 रन बनाए। आखिरी ओवर में कुल 15 रनों की दरकार थी, लेकिन 11 ही रन बने। 97 रनों की पारी खेलने वाले कप्तान शिखर धवन को मैन ऑफ द मैच चुना गया। टीम इंडिया की ओर से शुभमन गिल ने 64 और श्रेयर अय्यर ने 54 रन की पारी खेली। वहीं गेंदबाजी में मोहम्मद शिराज, शार्दुल ठाकुर और चहल ने 2-2 विकेट लिए। भारत सीरीज में 1-0 से आगे है।

धवन को उनकी 97 रन की पारी की वजह से मैन ऑफ द मैच के अवॉर्ड से नवाजा गया, वहीं आखिरी ओवर में 15 रन डिफेंड कर सिराज हीरो बने। मगर इन दोनों खिलाड़ियों के अलावा एक प्लेयर ऐसा भी है जिसने महफिल लूटी है। यह खिलाड़ी है भारतीय विकेट कीपर संजू सैमसन। 27 साल का यह खिलाड़ी बल्लेबाजी में तो फ्लॉप हुआ मगर आखिरी ओवर में विकेट के पीछे सैमसन ने ऐसा कारनामा किया कि फैंस सोशल मीडिया पर उनकी तारीफ करते नहीं थक रहे हैं।

दरअसल, सिराज आखिरी ओवर में 15 रन डिफेंड कर रहे थे। पहली चार गेंदों पर इस गेंदबाज ने 7 रन खर्च किए थे। आखिरी दो गेंदों पर मेजबानों को 8 रन की दरकार थी। तभी सिराज ने लेग साइड में एक बड़ी वाइड गेंद फेंकी। दरअसल, सिराज बल्लेबाज ने बल्लेबाज का पीछा किया जो हट कर शॉट खेलना चाहता था, मगर वह इस चक्कर में वाइड गेंद डाल बैठे। विकेट के पीछे तैनात संजू सैमसन ने लंबी डाइव लगाते हुए इस गेंद को रोकने में पूरी जान लगा दी। अगर यह गेंद संजू नहीं रोकते तो वाइड के साथ मेजबानों को 4 रन मिलते और वहां से भारत मैच हार भी सकता था। संजू सैमसन के इस प्रयास की तारीफ हर जगह हो रही है।

सिराज के आखिरी ओवर में नहीं बने 15 रन

पहली बॉल: अकील रन नहीं बना सके
दूसरी बॉल: अकील ने एक रन लिया
तीसरी बॉल: शेफर्ड ने चौका लगाया
चौथी बॉल: शिफर्ड ने दो रन बनाए
पांचवीं बॉल: वाइड का एक रन मिला
पांचवीं बॉल: शेफर्ड ने दो रन बनाए
छठी बॉल: शेफर्ड बाय का एक रन ले सके

Related Articles

Back to top button