भारत को जीत नहीं दिला पाते तो क्रिकेट से संन्यास ले लेते-आर अश्विन

सिडनी

आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2022 में 23 अक्टूबर को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर भारत और पाकिस्तान के बीच खेला गया मैच सालों साल याद किया जाएगा। टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली ने पाकिस्तान की हलक से जीत निकाली थी, लेकिन इस जीत में हार्दिक पांड्या के साथ-साथ आर अश्विन का योगदान भी अहम रहा था। पांड्या आखिरी ओवर में 40 रन बनाकर आउट हुए फिर दिनेश कार्तिक जब पवेलियन लौटे, तब टीम इंडिया को एक गेंद पर दो रन की जरूरत थी। अश्विन बल्लेबाजी के लिए आए और विराट कोहली नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े थे। अश्विन ने जिस तरह से गेंद छोड़ी और इसे वाइड दिया गया, भारत की जीत यहां से पक्की हो चुकी थी। आखिरी गेंद पर अश्विन ने सिंगल लिया और भारत ने ऐतिहासिक जीत दर्ज कर ली।

अश्विन ने जो गेंद छोड़ी थी और जिसे वाइड दिया गया था, अगर वह गेंद अंदर आती तो अश्विन आउट भी हो सकते थे। अश्विन ने मैच के बाद इस बारे में मजे लेते हुए कहा, 'अगर नवाज की गेंद मेरे पैड से लगती तो मैं वापस ड्रेसिंग रूम में जाता ट्विटर पर लिखता, थैंक्स ए लॉट, यह क्रिकेटिंग करियर शानदार रहा।'

अश्विन ने मजे-मजे में कह दिया कि अगर वह भारत को जीत नहीं दिला पाते तो क्रिकेट से संन्यास ले लेते। खैर भारत जीता और वह भी जबर्दस्त तरीके से। एक समय भारत को आठ गेंद पर 28 रन चाहिए थे। तब विराट ने हारिस राउफ के आखिरी ओवर की दो आखिरी गेंदों पर छक्का उड़ा दिया था। 

Related Articles

Back to top button