बीजेपी प्रचार में हीरो, हम थे जीरो… गुलाम नबी आजाद बोले- हमने अपने किए की पब्लिसिटी नहीं की

 नागपुर
 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने बुधवार को कहा कि भाजपा सरकार प्रचार में हीरो है, जबकि उनकी पार्टी और उसके नेतृत्व वाली सरकार उस मोर्चे पर 'जीरो' थी क्योंकि वे अपने काम और उपलब्धियों का 'प्रचार करने में विफल' थे। आजाद ने कहा कि प्रचार के स्तर पर हम पूरी तरह से शून्य थे। गुलाम नबी आजाद कांग्रेस के जी-23 नेताओं में शामिल हैं। ये नेता पार्टी के नेतृत्व में बदलाव को लेकर आवाज उठा चुके हैं। इन नेताओं में कपिल सिब्बल भी शामिल हैं।

मंच पर मौजूद बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस का नाम लेते हुए आजाद ने कहा, 'उनकी सरकार प्रचार में हीरो है, लेकिन हम प्रचार में जीरो थे…पूरी तरह से शून्य…यह अच्छा है, मैं उनकी सराहना करता हूं और मैं खुद को, अपनी सरकार और अपनी पार्टी को दोषी ठहराता हूं कि हमने जो कुछ भी किया, हम उसका प्रचार नहीं कर सके।'

आजाद नागुपर में 'लोकमत टाइम्स एक्सीलेंस इन हेल्थकेयर अवॉर्ड्स 2021' कार्यक्रम में बोल रहे थे। आजाद ने कहा कि एक निर्वाचित प्रतिनिधि के रूप में उनके 42 साल, तत्कालीन जम्मू कश्मीर राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में उनके कार्यकाल और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के रूप में उन्हें काम करने का संतोष' मिला। उन्होंने कहा कि उस दौरान उन्होंने लोगों के लिए कई नवाचार शुरू किये और कई नए कल्याणकारी विचारों को लागू किया।
 
आजाद ने याद किया कि जब उन्हें केंद्रीय मंत्री बनाया गया था तब उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से उन्हें स्वास्थ्य मंत्रालय आवंटित करने के लिए कहा था। उन्होंने कहा कि इस पर सिंह ने कहा था कि उनके जैसे अनुभवी नेता के लिए मंत्रालय बहुत छोटा है। उन्होंने कहा, ''हालांकि मैं भाग्यशाली था क्योंकि मुझे स्वास्थ्य मंत्री बनाया गया। मैंने तत्कालीन प्रधानमंत्री से कहा था कि मैं देश के लिए कुछ करना चाहता हूं, स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करना चाहता हूं और अपने विचारों को अमल में लाना चाहता हूं।'

 

Related Articles

Back to top button