महाराष्ट्र के बाद बंगाल में TMC सरकार का भी होगा यही हाल, शुभेंदु अधिकारी ने दिए बड़े संकेत

कोलकाता

महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना के कई विधायकों के विद्रोह के बाद पैदा हुए राजनीतिक संकट के बीच भाजपा के वरिष्ठ नेता शुभेंदु अधिकारी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने दावा किया कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस नीत सरकार का भी यही हाल होगा और वह अपना कार्यकाल समाप्त होने से काफी पहले गिर जाएगी। अधिकारी ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र के बाद गैर-भाजपा शासित राज्य झारखंड और राजस्थान का नंबर है जिसके बाद बंगाल का नंबर आएगा।

भाजपा नेता के इस बयान पर तृणमूल कांग्रेस की ओर से तीखी प्रतिक्रिया आई। पार्टी ने कहा कि विधानसभा चुनावों में अपनी हार से हताश भाजपा खेमा सत्ता हासिल करने के लिए हर तरह की कोशिश कर रहा है। अधिकारी ने कूचबिहार जिले में रैली को संबोधित करते हुए कहा, "पहले महाराष्ट्र की स्थिति का समाधान निकल जाए। इसके बाद झारखंड और राजस्थान की बारी है। उसके बाद पश्चिम बंगाल आएगा। उनकी (तृणमूल कांग्रेस की) भी यही हालत होगी। सरकार 2026 तक नहीं चल पाएगी। यह सरकार 2024 तक बाहर हो जाएगी।"

'सत्ता के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार भाजपा'
तृणमूल कांग्रेस के प्रदेश महासचिव कुणाल घोष ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पिछले साल विधानसभा चुनाव में हार से अब तक नहीं उबर सकी भाजपा सत्ता हासिल करने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार दिखती है। उन्होंने कहा, "जोरदार चुनाव प्रचार के बावजूद भाजपा को चुनावों में करारी शिकस्त मिली। अब वे किसी भी तरह सत्ता हासिल करना चाहते हैं। उनके बयान भगवा खेमे की हताशा दर्शाते हैं।"

"भाजपा ने महाराष्ट्र में संकट पैदा किया, यह साफ हुआ"
तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सुखेंदु शेखर राय ने भी कहा कि अधिकारी के बयान स्पष्ट दिखाते हैं कि भाजपा ने महाराष्ट्र में यह संकट पैदा किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा देश में हर विपक्ष शासित राज्य में पीछे पड़ी है। इस देश की जनता उन्हें मुंहतोड़ जवाब देगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button