अजय माकन बोले – जहांगीरपुरी में बुलडोजर एक्शन को धर्म के चश्मे से देखना ठीक नहीं

नई दिल्ली
कांग्रेस महासचिव अजय माकन ने गुरुवार को कहा कि जहांगीरपुरी में बुलडोजर चलाने की घटना गरीब के पेट पर लात है और इसको धर्म के चश्मे से नहीं देखा जाना चाहिए क्योंकि महंगाई तथा बेरोजगारी से ध्यान हटाने के लिए साजिश के तहत यह कार्रवाई की गई है। उन्होंने ने कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करते हुए आज जहांगीरपुरी का दौरा किया और उन पीड़ितों से मिलने का प्रयास किया जिनके घर बुधवार को अवैध बताकर और बुलडोजर चलाकर ध्वस्त किए गए थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ स्थिति का जायजा लेने वह जहांगीरपुरी आए हैं और पीड़ितों से मिलने के बाद घटना को लेकर विस्तार से अपनी रिपोर्ट कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को सौंपेंगे। उनके साथ गए प्रतिनिधिमंडल में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के नेता भी शामिल है।

अजय माकन ने कहा कि दिल्ली के जहांगीरपुरी में जो कुछ हुआ है वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आम आदमी पार्टी (आप) की मिली भगत की परिणिति है। उनका कहना था कि भाजपा ने महंगाई तथा बेरोजगारी से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए जानबूझकर इस तरह की साजिश कर रही है। कांग्रेस नेता ने कहा कि दिल्ली नगर निगम ने जहांगीरपुरी में जो भी कार्रवाई की है वह कानून का उल्लंघन है। उनका कहना था कि वर्ष 2019 कोर्ट का आदेश वह साथ लेकर आए हैं जिसमें साफ कहा गया है कि बिना नोटिस के  किसी भी अवैध निर्माण को हटाया नहीं जा सकता।

जहांगीरपुरी अतक्रिमण विरोधी अभियान पर दो हफ्ते तक रोक बरकरार
सुप्रीम कोर्ट ने जहांगीरपुरी में नगर निगम के अतक्रिमण विरोधी अभियान पर गुरुवार को अगले दो हफ्ते के लिए रोक जारी रखने का आदेश दिया। न्यायमूर्ति एल. एन. राव और न्यायमूर्ति बी. आर. गवई की खंडपीठ ने अतक्रिमण विरोधी अभियान पर कल लगाई गई रोक पर यथास्थिति बरकरार रखने का आदेश पारित किया। इसके साथ ही पीठ ने जमीयत उलमा-ए-हिंद की याचिका पर जहांगीरपुरी अतक्रिमण विरोधी अभियान की तरह कई अन्य राज्यों की कार्रवाइयों के मामले में केंद्र सरकार और अन्य को नोटिस जारी किया।

Related Articles

Back to top button