CM Shivraj Singh बांटेंगे 81 लाख से अधिक हितग्राहियों को लाभ

CM Shivraj Singh : मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान चलाने के बाद CM Shivraj अब इस अभियान में सरकार द्वारा मंजूर किए गए 81 लाख से अधिक हितग्राहियों को हितलाभ वितरित करेंगे।

CM Shivraj Singh : उज्जवल प्रदेश, भोपाल. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस के दिन से 45 दिन तक मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान चलाने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अब इस अभियान में सरकार द्वारा मंजूर किए गए 81 लाख से अधिक हितग्राहियों को हितलाभ वितरित करेंगे।

मुख्यमंत्री चौहान के निर्देश पर सीएम सचिवालय इसका रोडमैप तैयार कर रहा है और दिसम्बर के पहले सप्ताह से संभागीय मुख्यालयों पर कार्यक्रमों का आयोजन कर हितलाभ वितरण का काम किया जाएगा। हितग्राहीमूलक योजनाओं में सरकार की योजनाओं का सीधा लाभ पाने वालों को टारगेट कर चल रही बीजेपी सरकार की रणनीति में अब अगला स्टेप लाभ पाने वाले हितग्राहियों से सीधा संवाद करना है।

इसीलिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर अब दिसम्बर में संभागीय मुख्यालयों में वृहद कार्यक्रम कर आयोजन के जरिये हितलाभ देने की योजना पर काम शुरू हो गया है। बताया जाता है कि मुख्यमंत्री संभागीय मुख्यालयों में हितलाभ वितरित करने जाएंगे जबकि मंत्रियों की ड्यूटी जिला स्तर पर लगाई जाएगी। इसके अलावा विधायक भी अपने क्षेत्र में कार्यक्रम कर स्थानीय जनता को हितलाभ वितरित कर सरकार के काम बताएंगे।

इनका लाभ मिला

इस अभियान में जिन प्रमुख योजनाओं का लाभ आवेदन लेकर दिया जाना तय किया गया था, उसमें सामाजिक सुरक्षा पेंशन, पशुपालन क्रेडिट कार्ड, विधवा पेंशन, अटल पेंशन, पीएम मातृ वंदना योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना, किसान क्रेडिट कार्ड, मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना, मछुआ क्रेडिट कार्ड योजना, आहार अनुदान योजना, निशुल्क कृत्रिम अंग उपकरण, कन्या अभिभावक पेंशन योजना, राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना, बाल आशिर्वाद योजना के हितग्राही शामिल हैं। इसके अलावा आयुष्मान भारत योजना, राशन योजना, पीएम किसान सम्मान निधि, उज्जवला योजना, पीएम जीवन ज्योति बीमा योजना, वृद्धावस्था पेंशन योजना समेत अन्य योजनाओं के हितग्राहियों को इन संभागीय सम्मेलनों में बुलाया जाएगा।

45 दिन का अभियान

मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान 17 सितम्बर से शुरू हुआ था और 31 अक्टूबर तक चला था। इस अभियान में 45 दिन में केंद्र व राज्य सरकार की अलग-अलग 38 योजनाओं में 81 लाख से अधिक ऐसे लोग चिन्हित हुए हैं जो पात्रता के बाद भी योजनाओं का लाभ पाने से वंचित थे। सरकार के पास इस अवधि में 92 लाख से अधिक आवेदन पहुंचे थे। इसके लिए प्रदेश के सभी जिलों में 28489 शिविर लगाए गए।

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group