भाजपा और आरएसएस को हराने के लिए कांग्रेस को होना होगा एकजुट-राहुल गांधी

 बेंगलुरु
कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस में एकता और प्रेमभाव का सार्वजनिक प्रदर्शन करते हुए प्रदेश अध्यक्ष डी. के. शिवकुमार ने पार्टी के वरिष्ठ नेता सिद्धारमैया के 75वें जन्मदिन के मौके पर उनसे गले मिले और उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। दोनों नेताओं के बीच इस प्रकार के प्रेमभाव को देखकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी मुस्कुराए बिना नहीं रह सके।
 

शिवकुमार और सिद्धारमैया को अगले वर्ष अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी के सत्ता में आने की सूरत में मुख्यमंत्री पद का प्रबल दावेदार माना जा रहा है और दोनों के समर्थक समय-समय पर उनकी दावेदारी का इजहार करते रहते हैं। राहुल गांधी ने कहा, ‘‘आज मैं मंच पर सिद्धारमैया और डी. के. शिवकुमार को गले मिलते देखकर प्रसन्न था।'' गांधी ने कहा कि शिवकुमार ने कांग्रेस संगठन के लिए काफी काम किया है। गांधी ने एक प्रकार से चुनावी बिगुल बजाते हुए कहा, ‘‘कांग्रेस पार्टी कर्नाटक में भाजपा और आरएसएस को हराने के लिए पूरी तरह से एकजुट है।'' उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस सत्ता में आएगी तो वह ‘‘निष्पक्ष और ईमानदार'' सरकार देगी, जो राज्य के भविष्य के लिए काम करेगी, न कि नफरत फैलाने का काम।

राज्य के तटीय इलाके में पिछले कुछ दिनों में कथित सांप्रदायिक बयानों के कारण हुई तीन हत्याओं का जिक्र करते हुए गांधी ने कहा कि कर्नाटक में अतीत में ऐसी घटनाएं नहीं हुई हैं। गांधी ने कहा, ‘‘जब हम अमेरिका में लोगों से पूछते हैं कि वे आज कर्नाटक के बारे में क्या सोचते हैं तो वे आपसे कहेंगे कि कर्नाटक में आज की तरह की हिंसा पहले कभी नहीं हुई।'' गांधी ने कहा, ‘‘वे कहेंगे कि जब कांग्रेस सत्ता में थी तो कर्नाटक में सौहार्द था।'' गांधी ने सिद्धारमैया को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए कहा, ‘‘वे ऐसे इंसान हैं जो उम्र बढ़ने के साथ और युवा लगने लगे हैं।''

Related Articles

Back to top button