अखिलेश की सात पीढ़ी भी बीजेपी को खत्म नहीं कर पाएगी-फरहान अहमद

लखनऊ

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के नेता फरहान अहमद ने समाजवादी पार्टी और इसके मुखिया अखिलेश यादव पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि सपा का मुस्लिम प्रेम सिर्फ छलावा है। पार्टी ने भाजपा को हराने के नाम पर साजिश के तहत मुसलमानों का वोट लिया, जबकि यादवों ने मुसलमानों को वोट नहीं दिया।

फरहान ने अखिलेश पर आरोप लगाते हुए उन्हें भस्मासुर बता दिया। उन्होंने कहा कि वह भस्मासुर हैं, जिसके साथ जाते हैं, वह पार्टी खत्म हो जाती है। पिछले लोकसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस का पत्ता साफ कर दिया। अब मुस्लिम उन्हें वोट नहीं देंगे। उन्होंने यह सोचकर वोट दिया था कि वह बीजेपी को हरा देंगे, लेकिन अब सच सबके सामने है। इनकी सात पीढ़ी भजापा को खत्म नहीं कर पाएगी। सपा को मुस्लिमों ने अंतिम मौका दिया था।

फरहान अहमद ने कहा, “अखिलेश यादव और उनकी आने वाली सात पीढ़ी भी भारतीय जनता पार्टी को खत्म नहीं कर पाएगी। इन्होंने कांग्रेस से गठबंधन की कांग्रेस खत्म हो गई। बसपा से गठबंधन की बसपा खत्म हो गई। फिर राजभर जी (ओम प्रकाश राजभर) और स्वामी प्रसाद मौर्य और बसपा के तमाम लोग टूटकर चले आए, जिनके सर पर भी हाथ रखा सब खत्म हो गए। अखिलेश यादव यूपी में भस्मासुर की भूमिका में है। वह उत्तर प्रदेश के भस्मासुर हैं। उन्हें आप भैयासुर उर्फ भस्मासुर कह सकते हैं।”

फरहान अहमद ने यह भी कहा, “मुस्लिम समाज ने जान लिया है कि अखिलेश यादव में हैसियत नहीं कि वह आने वाले समय में भारतीय जनता पार्टी को हटा सके। इसलिए अब म जब हमें अपना ही वोट देना है तो क्यों न हम अपने बैनर तले वोट दें। अपनी पार्टी एआईएमआईएम को दे। क्यों न अपने भाई असदुद्दीन ओवैसी को मजबूत करें।”

Related Articles

Back to top button