जहालत एक किस्म की मौत है… बागी विधायकों पर कुछ इस तरह बरसे संजय राउत

मुंबई

राजनीति में दिलचस्पी रखने वाले लोग महाराष्ट्र के भयंकर ड्रामे के बीच बीच में शिवसेना सांसद संजय राउत के बयानों के भी खूब चटखारे ले रहे हैं। मजे की बात यह है कि संजय राउत भी उन्हें निराश नहीं कर रहे हैं। इसी कड़ी में संजय राउत का एक नया ट्वीट सामने आया है। इसमें उन्होंने बागी विधायकों को इशारों ही इशारों में कुछ ऐसा लिख दिया कि उसकी चर्चा होने लगी। उन्होंने अपने ट्वीट में जहालत, जाहिल, मौत और लाशें जैसे शब्दों का जिक्र कर दिया।

दरअसल, शिवसेना सांसद संजय राउत ने मंगलवार को एक बार फिर से पार्टी के बागी विधायकों पर इशारों-इशारों में निशाना साधा। सुबह-सुबह संजय राउत ने अपने एक ट्वीट में लिखा, 'जहालत, एक किस्म की मौत है, और जाहिल लोग चलती-फिरती लाशें हैं।' माना जा रहा है कि यह शायराना अंदाजा उन्होंने शिंदे गुट पर निशाना साधते हुए लिखा है।

इससे पहले भी बागी विधायकों को लेकर संजय राउत का आक्रामक बयान सामने आया था। संजय राउत ने कहा था है गुवाहाटी में जो 40 लोग मौजूद हैं वे जिंदा लाश हैं। उनकी आत्मा मर चुकी है। इतना ही नहीं राउत ने यह भी कह दिया था कि जब वे मुंबई आएंगे तो उन्हें पोस्टमॉर्टम के लिए सीधा विधानसभा भेजा जाएगा। राउत ने यह भी कहा था कि विद्रोहियों को मेरी खुली चुनौती है कि वे इस्तीफा दें और अपने वोटरों से नए सिरे से जनादेश मांगें। अतीत में छगन भुजबल, नारायण राणे और उनके समर्थकों ने अन्य दलों में शामिल होने के लिए शिवसेना विधायक के रूप में इस्तीफा दे दिया था। यहां तक कि मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों ने कांग्रेस विधायकों के रूप में इस्तीफा दे दिया था।

उधर गुवाहाटी के रेडिसन ब्लू होटल में बागी विधायक उद्धव गुट को मात देने की हरसंभव कोशिश कर रहे हैं। दिल्ली में महाराष्ट्र के बीजेपी नेताओं का आना-जाना लगा हुआ है। अब देखना यह है कि महाराष्ट्र संकट में उद्धव ठाकरे की मुख्यमंत्री की कुर्सी जाएगी या बचेगी लेकिन एक बात तो तय है कि बागी विधायकों ने उद्धव सरकार की सिट्टी पिट्टी गुम कर दी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button