कांग्रेस में बैठकें हुईं तेज, पिछले चुनाव में सभी 16 नगर निगम हार चुकी थी कांग्रेस

भोपाल
प्रदेश की 16 नगर निगमों में महापौर के टिकट तय करने के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के यहां पर बैठक शुरू हो गई है। बैठक में सभी नगर निगम क्षेत्र के जिला प्रभारी, सह प्रभारी, जिला शहर अध्यक्ष, इन क्षेत्रों के कांग्रेस विधायक शामिल हैं। पहले सभी की सामूहिक रूप से बैठक हो रही है। इसके बाद कमलनाथ एक-एक नगर निगम के प्रभारियों और पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। आज होने वाली मैराथन बैठक के बाद रात में या शुक्रवार को 14 नगर निगमों के महापौर उम्मीदवारों का औपचारिक ऐलान कर दिया जाएगा।

पिछले चुनाव में कांग्रेस सभी 16 नगर निगम में मेयर का चुनाव हार गई थी, लेकिन इस बार कांग्रेस इस चुनाव को पूरी ताकत के साथ लड़ने जा रही है। बैठक में कमलनाथ ने साफ कर दिया है कि यह चुनाव मिशन 2023 की कांग्रेस की तैयारी है। इसलिए इस चुनाव को पार्टी पूरी ताकत के साथ लड़ेगी। इसलिए ही मेयर के चुनाव में विधायकों को भी उतारा जा रहा है। उन्होंने बैठक में मौजूद सभी नेताओं से कहा है कि पूरी ताकत के साथ वार्ड से लेकर मेयर तक का चुनाव लड़ना है। नगर पालिका और नगर परिषद में भी कांग्रेस का अपनी ताकत दिखाना है।

इसके बाद उन्होंने सभी शहरों को लेकर अलग-अलग बैठक शुरू की है। इस बैठक में सभी नेता एक राय होकर अपनी रिपोर्ट कमलनाथ को दे रहे हैं। साथ ही शहर के सभी समीकरणों को उन्हें बता रहे हैं। हालांकि इस रिपोर्ट से पहले ही कांग्रेस ने एक दर्जन महापौर उम्मीदवारों का चयन कर लिया है। जिनका अब औपचारिक ऐलान होना बाकी है जो आज रात तक या शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस की ओर से कर दिया जाएगा।

बिरसा मुंडा को दी श्रद्धांजलि
इस बैठक से पहले पीसीसी चीफ कमलनाथ ने लोकनायक  बिरसा मुंडा की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धाजंलि देने के लिए प्रदेश कांग्रेस दफ्तर पहुंचे। नाथ ने कहा कि बिरसा मुंडा ने अंग्रेजों के खिलाफ विद्रोह किया था। वह एक दूरदर्शी थे जिन्होंने अपने समुदाय, आदिवासी लोगों की मुक्ति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जो ब्रिटिश शोषणकारी नीतियों और अत्याचारों के लगातार पीड़ित थे। उन्होंने कहा कि आजादी के आंदोलन में आदिवासियों की भी महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Related Articles

Back to top button