मोबाइल रिपेयर करने वाला बन गया विधायक, CM चन्नी को दी बड़े मार्जिन से शिकस्त

चंडीगढ़
पंजाब ने इस बार इतिहास रच दिया है। पंजाब विधानसभा चुनाव परिणामों के बाद आम आदमी पार्टी स्पष्ट बहुमत के साथ सरकार बना रही है। पंजाब में आप की लहर का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि दो सीटों से चुनाव लड़ने वाले मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी भदौर सीट से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार लाभ सिंह उगोके से चुनाव हार गए हैं। चन्नी को चुनाव हराने वाले कोई दिग्गज नेता नहीं बल्कि मोबइल रिपेयर करने वाला शख्स है।  

दोनों सीटों पर हुई चन्नी की करारी हार
पंजाब में फिर से मुख्यमंत्री का सपना देखने वाले चरणजीत सिंह चन्नी को बहुत बुरी हार का मुंह देखना पड़ा है। कांग्रेस को पंजाब में इस कदर का बड़ा झटका लगा है कि खुद दो सीटों से चुनाव लड़ने वाले मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को करारी हार झेलनी पड़ी है। बरनाला जिले की भदौर दूसरी आरक्षित सीट है, जहां से चमकौर साहिब के अलावा कांग्रेस के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार चरणजीत चन्नी ने चुनाव लड़ा था।
 
लाभ सिंह ने बड़े मार्जिन से चन्नी को हराया
परिणामों की बात करें तो भदौर सीट से आप प्रत्याशी लाभ सिंह उगोके ने चरणजीत सिंह चन्नी को बड़े मार्जिन से हराया है। लाभ सिंह को जहां 63 हजार के करीब वोट मिले हैं, तो चन्नी को सिर्फ 26000 वोटों से संतुष्ट होना पड़ा। ऐसे में आप इस जीत से साफ अंदाजा लगा सकते हैं कि पंजाब में आप की लहर का क्या वजूद हैं।
 
पहले चुनाव में ही चन्नी को हराया
भदौर में सीएम चरणजीत सिंह चन्नी को हराने वाले आप प्रत्याशी लाभ सिंह उगोके मोबाइल की दुकान चलाते हैं। 1987 में जन्में लाभ सिंह ने 12वीं तक पढ़ाई की है। 12वीं पास करने के बाद लाभ सिंह ने मोबाइल फोन रिपेयरिंग में डिप्लोमा कोर्स किया और अपने गांव में एक दुकान खोली। गांव में उनका दो कमरों का एक घर है, हालांकि पिछले तीन साल से उनकी दुकान बंद है। 2013 में उगोके स्वेच्छा से आप में शामिल हुए थे और अपना पहला चुनाव लड़ रहे थे।

Related Articles

Back to top button