National Political News: कर्नाटक में AAP को झटका, नेता और पूर्व कमिश्नर भास्कर राव बीजेपी में शामिल

National Political News : कर्नाटक में आम आदमी पार्टी को झटका लगा है। बेंलगुरु पुलिस के पूर्व कमिश्नर और आम आदमी पार्टी के नेता भास्कर राव भाजपा में शामिल हो गए हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नलिन कटील ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई।

Latest National Political News: उज्जवल प्रदेश,बेंगलुरु. कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (AAP) को झटका लगा है। बेंगलुरु पुलिस के कमिश्नर रहे और AAP नेता भास्कर राव ने अपनी पार्टी को अलविदा कह दिया है। इसके साथ ही भास्कर राव ने राज्य की सत्ताधारी पार्टी भाजपा का दामन थाम लिया है।

AAP पर साधा निशाना

भास्कर राव ने एक मार्च को भाजपा की सदस्यता ली। इस दौरान उनके साथ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नलिन कुमार कटील भी मौजूद थे। पत्रकारों को संबोधित करते हुए भास्कर राव ने AAP पर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि AAP में पारदर्शिता की कमी है। इसे एक बहुराष्ट्रीय कॉरपोरेशन की तरह चलाया जाता है। भ्रष्टाचार से लड़ने के नाम पर चंदा इकट्ठा किया जाता है।

AAP के मंत्रियों का जेल जाना शर्मनाक

भास्कर राव ने ये भी कहा कि AAP का विकास अब नहीं हो सकता है। पूरी पार्टी एक मंडली के हाथों में है। पार्टी में स्पष्टता की कमी है। भास्कर ने ये भी कहा कि AAP के दो मंत्रियों का जेल जाना शर्मनाक है। बता दें कि सीबीआई ने हाल ही में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को कथित आबकारी घोटाले में गिरफ्तार किया है। वहीं, मनी लॉन्ड्रिंग केस में पूर्व मंत्री स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन जेल में हैं।

पीएम मोदी से प्रेरित

भास्कर राव ने बताया कि वह पीएम मोदी से काफी प्रेरित हैं। उन्होंने कहा कि वह पीएम के कामों को देखकर बीजेपी में शामिल हुए। मुझे लगता है कि मैं भाजपा में अधिक योगदान दे सकता हूं। पीएम मोदी के विजन ने मुझे पार्टी में शामिल होने के लिए प्रेरित किया।

11 महीने पहले हुए थे AAP में शामिल

बता दें कि भास्कर राव 11 महीने पहले बीते साल चार अप्रैल को ही AAP में शामिल हुए थे। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भास्कर राव को पार्टी की सदस्यता दिलाई थी। भास्कर राव का पार्टी छोड़ना AAP के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।इस दौरान भास्कर राव ने AAP पर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि AAP में पारदर्शिता की कमी है। इसे एक बहुराष्ट्रीय कॉरपोरेशन की तरह चलाया जाता है। भ्रष्टाचार से लड़ने के नाम पर चंदा इकट्ठा किया जाता है।

 

Related Articles

Back to top button