अध्यक्ष पद के उम्मीदवार शशि थरूर आज भोपाल पहुंचे, नहीं मिला खड़गे जैसा रिस्पांस

भोपाल

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार शशि थरूर आज भोपाल पहुंचे। इस दौरान उन्होंने प्रदेश कांग्रेस के प्रतिनिधियों से मुलाकात की। थरूर ने बाद में पत्रकारों से भी चर्चा की। हालांकि थरूर को मल्लिकार्जुन खड़गे जैसा रिस्पांस प्रदेश कांग्रेस में नहीं मिला। थरूर विशेष विमान से भोपाल आए और एयरपोर्ट से सीधे प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पहुंचे। जहां पर उन्होंने पार्टी के वरिष्ट नेताओं और निर्वाचित प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधियों से मुलाकात करना कर अपने लिए समर्थन मांगा, लेकिन खड़गे के मुकाबले उनसे यहां पर कम प्रतिनिधि ही उनसे मुलाकात के लिए पहुंचे।

थरूर के तीखे रहे तेवर
डेलीगेट्स की बैठक में शशि थरूर ने कहा कि कांग्रेस लगातार चुनाव हार रही है। कार्यकर्ताओं को महसूस नहीं होता है कि वे भी पार्टी के भागीदार है। केंद्रीय नेतृत्व से मिलना आसान नहीं है। अध्यक्ष ऐसा हो कि कम से कम सप्ताह में दो बार कार्यकर्ताओं से मुलाकात तो कर सके। पीसीसी डेलीगेट्स को पिछले 22 साल से कुछ करने का मौका ही नहीं मिला। अब जाकर वोट डालने का मौका मिला है। उन्होंने कहा कि वे प्रयास करेंगे के पार्टी के अंदर नई ऊर्जा आए। थरूर ने कहा कि जो साधारण कार्यकर्ता है उनके फोन मेरे पास आ रहे हैं, वे मुझे समर्थन दे रहे हैं। ये गुप्त मतदान हैं इसमें किसी को कोई जानकारी नहीं होगी कि कौन किसे वोट दे रहा है।

कमलनाथ से भी की चर्चा
थरूर और कमलनाथ के बीच भी बंद कमरे में चर्चा हुई। थरूर ने कमलनाथ से मिलने की इच्छा जताई थी, इसके बाद कमलनाथ प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पहुंचे। यहां पर थरूर और कमलनाथ के बीच में करीब दस मिनट तक चर्चा हुई। चर्चा के बाद कमलनाथ यहां से चले गए। कमलनाथ से मुलाकात के बाद थरूर ने कहा कि ये पहले पीसीसी चीफ हैं जिन्होंने मुझे रिस्पांस दिया।

Related Articles

Back to top button