सिंधिया- देवघर एयरपोर्ट जांच के बाद हकीकत आएगी सामने

देवघर
देवघर एयरपोर्ट पर Air Traffic Control (ATC) अधिकारियों से जबरन अनुमति लेने का मामला तूल पकड़ चुका है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी इस पर प्रतिक्रिया दी है। इस मामले में भाजपा सांसद निशिकांत दुबे और मनोज तिवारी समेत 9 लोगों पर केस दर्ज किया गया है। अब केंद्रीय मंत्री विमानन मंत्री ने पूरे मसले पर कहा कि देवघर एयरपोर्ट विवाद की जांच के बाद सच सामने आएगा।

बता दें कि इस मामले में भारतीय जनता पार्टी के दोनों सांसदों और 7 अन्य लोगों पर गंभीर आरोप हैं। आरोप है कि इन सभी ने मिलकर एटीसी के अधिकारियों पर दबाव बनाया कि वो उनके चाटर्ड फ्लाइट को देवघर से उड़ने की इजाजत दे, जबकि यह फ्लाइट 31 अगस्त को उड़ने वाली थी। दोनों भाजपा नेता झारखंड के दुमका में जिंदा जलाई गई नाबालिग लड़की के परिजनों से मिलने के बाद दिल्ली जाना चाहते थे। दुमका में लड़की को जिंदा इसलिए जलाया गया था क्योंकि उसने शाहरुख नाम के एक युवक से मोबाइल पर बातचीत करने से इनकार कर दिया था।

दुमका से निकलने के बाद देवघर एयरपोर्ट पहुंचे भाजपा सांसदों का वहां एटीसी अधिकारियों से विवाद हुआ था। शनिवार को मध्य प्रदेश के इंदौर में मौजूद केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से जब पत्रकारों ने इस विवाद को लेकर सवाल किया तो ने कहा, 'जांच के बाद मामले की पूरी सच्चाई सामने आ जाएगी। जिसके बाद डिटेल आपके साथ भी शेयर की जाएगी।'

सुरक्षा नियमों को तोड़ा
दुबे, उनके दोनों बेटों, सांसद मनोज तिवारी समेत अन्य लोगों के खिलाफ देवघर एयरपोर्ट के निदेशक संदीप ढिंगरा ने शिकायत दर्ज कराई थी। यह शिकायत 1 सितंबर को कुंडा पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई गई थी। शिकायत में आरोप है कि सभी 9 लोगों ने एटीसी रुम में घुस कर सुरक्षा नियमों को तोड़ा और जबरन विमान ले जाने की अनुमति हासिल fकी।

दिल्ली में FIR दर्ज
आरोप लगाया गया है कि देवघर एयरपोर्ट पर रात के वक्त टेक ऑफ और लैंडिंग की सुविधा ना होने के बावजूद जबरन विमान को वहां से उड़ने की इजाजत ली है। इस विवाद के सामने आने के बाद निशिकांत दुबे और देवघर के डिप्टी कमिश्नर मंजूनाथ भजंत्री के बीच ट्विटर पर आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी चला था।
इसके बाद दिल्ली पुलिस ने डिप्टी कमिशनर के खिलाफ जीरो एफआईआर भी दर्ज की किया है। उनके अलावा कुछ अन्य पुलिस अधिकारियों पर भी प्रताड़ना का केस दर्ज हुआ है। यह एफआईआर निशिकांत दुबे की शिकायत के बाद दर्ज हुआ है।

Related Articles

Back to top button