संगीत सोम की बढ़ीं मुश्किलें, क्राइम ब्रान्च को ट्रांसफर हुआ पोलिंग अफसर को पीटने का केस

 मेरठ

भाजपा के पूर्व विधायक संगीत सोम के खिलाफ दर्ज मुकदमे की विवेचना क्राइम ब्रान्च को दी गई है। पूर्व विधायक के खिलाफ सरधना थाने में पीठासीन अधिकारी से मारपीट, हमला और लूट की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था। इस मामले में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

मेरठ में विधानसभा चुनाव की वोटिंग के दिन यानी 10 फरवरी 2022 को सरधना में सलावा गांव के पोलिंग बूथ पर तैनात पीठासीन अधिकारी से संगीत सोम ने मारपीट की थी। मामले में इंस्पेक्टर लक्ष्मण वर्मा की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया था। इस मुकदमे में लूट समेत 7 धाराएं लगाई गई थी। इस मुकदमे में अब विवेचना क्राइम ब्रांच को ट्रांसफर कर दी गई है।

आरोप है कि 10 फरवरी को सरधना विधानसभा क्षेत्र के सलावा गांव के प्राथमिक विद्यालय नंबर-दो में मतदान के दौरान पूर्व विधायक संगीत सोम और उनके समर्थक पीठासीन अधिकारी अश्विनी कुमार से उलझ गए। उन्‍होंने उनके साथ मारपीट की थी। यही नहीं इस दौरान बूथ पर लगे वेब कैमरा को भी उखाड़ दिया गया। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने किसी तरह स्थिति को संभाला।
 

सूचना पर मौके पर पहुंचे डीएम और एसएसपी भी सलावा पहुंचे। इस मामले में इंस्पेक्टर सरधना की ओर से संगीत सोम और उनके समर्थकों के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। मामले की जांच सरधना पुलिस कर रही थी। अब ये मामला क्राइम  ब्रान्च को ट्रांसफर कर दिया गया है।

Related Articles

Back to top button