हिमाचल में चुनाव से पहले AAP को झटका, प्रदेश अध्यक्ष समेत दो और बड़े नेता भाजपा में शामिल

नई दिल्ली

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी (आप) को बड़ा झटका लगा है। राज्य के आप प्रमुख अनूप केसरी और अन्य दो नेता शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जेपी नड्डा के आवास पर केसरी समेत संगठन महासचिव सतीश ठाकुर और ऊना जिला प्रमुख इकबाल सिंह को भाजपा की सदस्यता दिलाई गई। इस मौके पर उन्होंने आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा। उन्होंने केजरीवाल पर मंडी निर्वाचन क्षेत्र में रोड शो के दौरान पार्टी नेताओं के अपमान का आरोप लगाया। केसरी ने कहा, "हम हिमाचल प्रदेश में पिछले आठ वर्षों से आप के लिए पूरी ईमानदारी और समर्पण के साथ चौबीसों घंटे काम कर रहे थे। लेकिन, अरविंद केजरीवाल ने मंडी में रैली और रोड शो के दौरान राज्य के पार्टी कार्यकर्ताओं की अनदेखी की। पहाड़ी में राज्य आप कार्यकर्ताओं ने इस अनदेखी को अपमान माना और स्वाभिमान के लिए पार्टी छोड़ दी।"

'केजरीवाल ने हमें देखा तक नहीं'
केसरी ने कहा कि हम उनसे (केजरीवाल) बहुत निराश हैं। उन्होंने हमें देखा तक नहीं, जो पार्टी के लिए दिन-रात काम करते हैं। केवल अरविंद केजरीवाल और पंजाब के सीएम भगवंत मान मंडी में रोड शो के मुख्य आकर्षण थे। भाजपा में शामिल होने के बाद, उन्होंने केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और पार्टी के राष्ट्रीय प्रमुख जेपी नड्डा को आगामी विधानसभा चुनावों में पार्टी को सत्ता में वापस लाने के लिए और अधिक मेहनत करने का आश्वासन दिया।
 

'कार्यकर्ता अपमानित महसूस कर रहे'
सतीश ठाकुर और इकबाल सिंह ने भी आप छोड़ने का यही कारण बताया। उन्होंने कहा कि जिन कार्यकर्ताओं ने पार्टी के लिए खुद को प्रतिबद्ध किया है, वे हिमाचल प्रदेश की मंडी में रोड शो के दौरान दिल्ली और पंजाब के मुख्यमंत्रियों द्वारा अपमानित महसूस कर रहे हैं। ठाकुर ने कहा, "6 अप्रैल को रोड शो के दौरान हमें अपमानित और उपेक्षित महसूस हुआ, इसलिए हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में काम करने और हिमाचल प्रदेश के लोगों की सेवा करने के लिए भाजपा में शामिल होने का फैसला किया।"

Related Articles

Back to top button